Right News

We Know, You Deserve the Truth…

पहली सीरीज का सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 4,777 रुपए में आ रहा है, ऑनलाइन खरीदने पर मिलेगा 50 रुपए का डिस्काउंट

2021-22 के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली बिक्री 17 मई से शुरू होगी जो 21 मई तक चलेगी। रिजर्व बैंक (RBI) ने इसके लिए 4,777 रुपए प्रति ग्राम का भाव तय किया है। जो लोग इनके लिए ऑनलाइन आवेदन करेंगे और डिजिटल पेमेंट के जरिए भुगतान करेंगे, उन्हें प्रति ग्राम 50 रुपए का डिस्काउंट मिलेगा।

6 सीरीज में जारी होंगे सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड
केंद्रीय वित्त मंत्रालय से मिली सूचना के मुताबिक सॉवरेन गोल्ड बांड मई से लेकर सितम्बर के बीच 6 किस्तों में जारी किए जाएंगे। रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा जारी किए जाने वाले बांड की इस स्कीम में बैंकों के जरिए भी निवेश किया जा सकेगा।

क्या है सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड?
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी बॉन्ड होता है। इसे डीमैट रूप में परिवर्तित कराया जा सकता है। इसका मूल्य रुपए या डॉलर में नहीं होता है, बल्कि सोने के वजन में होता है। यदि बॉन्ड पांच ग्राम सोने का है, तो पांच ग्राम सोने की जितनी कीमत होगी, उतनी ही बॉन्ड की कीमत होगी। इसे खरीदने के लिए सेबी के अधिकृत ब्रोकर को इश्यू प्राइस का भुगतान करना होता है। बॉन्ड को भुनाते वक्त पैसा निवेशक के खाते में जमा हो जाता है। यह बॉन्ड भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) सरकार की ओर से जारी करता है।

इसे कैसे खरीद सकते हैं?
गोल्ड खरीदने के लिए आपको अपने ब्रोकर के माध्यम से डीमैट अकाउंट खोलना होता है। इसमें एनएसई पर उपलब्ध गोल्ड ईटीएफ के यूनिट आप खरीद सकते है और उसके बराबर की राशि आपके डीमैट अकाउंट से जुड़े बैंक अकाउंट से कट जाएगी। आपके डीमैट अकाउंट में ऑर्डर लगाने के दो दिन बाद गोल्ड ईटीएफ आपके अकाउंट में डिपॉजिट हो जाते हैं।

मंत्रालय के मुताबिक यह बॉन्ड सभी बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (NSE) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज लिमिटेड (BSE) के माध्यम से बेचे जाएंगे।

इस समय सोने में निवेश दिला सकता है अच्छा मुनाफा
केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया कहते हैं कि देश में कोरोना लगातार बढ़ रहा है। इससे भी लोगों में कोरोना के प्रति फिर से डर का माहौल है। इसके अलावा देश में महंगाई भी बढ़ने लगी है। इससे भी सोने के दाम आने वाले दिनों में बढ़ेंगे। अगर ऐसा ही माहौल रहा तो मार्च 2022 तक सोना 60 हजार तक जा सकता है।

IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता कहते हैं कि अभी कोरोना के कारण दुनियाभर में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है। ऐसे में इसका फायदा सोने को मिल सकता है। आने वाले महीनों में सोना फिर 55 हजार के पार जा सकता है।

error: Content is protected !!