Right News

We Know, You Deserve the Truth…

जिसने भी लिखी हो गुमनाम चिठ्टी, उठा कर लाएंगे और सख्त कानूनी कार्यवाही करेंगे- जय राम ठाकुर

हिमाचल के मंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर लिखी चिट्ठी को लेकर सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि ऐसे एक नहीं अनेकों लेटर हर रोज मिलते हैं। इनका मकसद केवल मात्र छवि को नुकसान पहुंचाना होता है। अगर किसी में हिम्मत है तो नाम और पते सहित लेटर लिखें , सरकार जांच करवाएगी। उन्होंने कहा कि यह गुमनाम लेटर किसने लिखा इस बारे जांच की जाएगी।

अगर कोई पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की छोटी मानसिकता होती है और इनका लक्ष्य नुकसान पहुंचाना होता है। यह बात सीएम जयराम ठाकुर ने यहां मीडिया से बातचीत में कही।

बता दें कि बीजेपी हाईकमान को भेजे गए एक लेटर ने जयराम सरकार में खलबली मचा दी है। पार्टी हाईकमान और केंद्रीय नेतृत्व को भेजी गई इस गुमनाम चिट्ठी में सीएम जयराम ठाकुर के एक मंत्री पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए गए हैं। इस लेटर के लीक होने के बाद से चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। हिमाचल बीजेपी के अंदर पत्र के बाद से तूफान मचा हुआ है। जयराम ठाकुर के मंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के साथ ही इस में एक आयोग के अध्यक्ष को भी लपेटे में लिया गया है। बताया जा रहा है कि पत्र में दोनों पर भ्रष्टाचार सहित कई अन्य गंभीर आरोप हैं। हिमाचल में तीन जगह पर उपचुनाव आने वाले हैं। ऐसे में केंद्रीय नेतृत्व भी पसोपेश में है। ऐसा कहा जा रहा है कि यह लेटर किसी बीजेपी कार्यकर्ता द्वारा लिखा गया है। लेटर में सीएम जयराम ठाकुर पर भी मंत्री द्वारा दबाव बनाने तक की बात कही गई है। पत्र में एक बड़े अधिकारी को भी लपेटे में लिया गया है। अब यह पत्र सोशल मीडिया पर भी वायरल हो चुका है।

वहीं, मीडिया से बातचीत में सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों को फ्री कोविड वैक्सीन देने के पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान ने विपक्ष की बोलती बंद कर दी है। हिमाचल सरकार ने पहले ही फ्री वैक्सीन देने की घोषणा की थी। अब प्रदेश सरकार का साढ़े तीन सौ करोड़ रूपये से ज्यादा पैसा बचेगा। क्योंकि केंद्र के सहयोग से वैक्सीन उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि निजी अस्पताल भी वैक्सीन लगा पाएंगे। उनके लिए 25 फीसदी कोटा तय किया गया है। सर्विस चार्जेज के नाम पर 150 रुपये वसूल कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना कर्फ्यू में ढील को कुछ सुझाव आए हैं, कल कैबिनेट की बैठक में लंबी चर्चा के बाद फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल में कोरोना के मामले कम हुए हैं पर लोगों को अब भी बहुत सावधान होकर काम करने की जरूरत है।


error: Content is protected !!