स्किल इंडिया के जरिए बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा- नरेंद्र मोदी

Read Time:2 Minute, 50 Second

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा है कि नई पीढ़ी के युवाओं का स्किल डेवलपमेंट, एक राष्ट्रीय जरूरत है, आत्मनिर्भर भारत का बहुत बड़ा आधार है. मोदी ने कहा कि बीते 6 वर्षों में जो आधार बना, जो नए संस्थान बने, उसकी पूरी ताकत जोड़कर हमें नए सिरे से स्किल इंडिया मिशन को गति देनी है. पीएम ने यह बातें वर्ल्ड यूथ स्किल्स डे (World Youth Skills Day) के मौके पर एक वीडियो संदेश में कहीं. पीएम ने कहा, ‘हम विजयदशमी को शस्त्र पूजन करते हैं. अक्षय तृतीया को किसान फसल की, कृषि यंत्रों की पूजा करते हैं. भगवान विश्वकर्मा की पूजा तो हमारे देश में हर स्किल, हर शिल्प से जुड़े लोगों के लिए बहुत बड़ा पर्व रहा है.’

पीएम ने कहा, ‘आज ये महत्वपूर्ण है कि सीखने के साथ आपकी कमाई ना रुके. आज के समय में जो कुशल होगा वही विकास करेगा. ये बात व्यक्तियों पर भी लागू होती है और देश पर भी.’ पीएम ने कहा, ‘देश कोरोना से इतनी प्रभावी लड़ाई लड़ सका तो इसमें भी हमारी स्किल्ड वर्कफोर्स का अहम योगदान है. बाबा साहेब आंबेडकर ने भी स्किल पर जोर दिया था. स्किल इंडिया के जरिए बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है.’

स्किल गैप की मैपिंग प्रशंसनीय कदम- पीएम
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘विश्व के लिए एक स्मार्ट और कुशल मानव-शक्ति समाधान भारत तैयार करे, दे सके, ये हमारे नौजवानों की कौशल रणनीति के मूल में होना चाहिए. इसको देखते हुए ग्लोबल स्किल गैप की मैपिंग जो की जा रही है, वो प्रशंसनीय कदम है.’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ यह दूसरी बार है जब हम कोरोना महामारी के बीच इस दिन को मना रहे हैं. इस वैश्विक महामारी की चुनौतियों ने विश्व युवा कौशल दिवस का महत्व बढ़ा दिया है.’ उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के माध्यम से अब तक 1.25 करोड़ से अधिक युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!