पबजी के प्रभाव में नाबालिग ने पूरे परिवार की गोली मार कर की हत्या

लाहौर. पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की राजधानी में एक 14 वर्षीय लड़के ने कथित तौर पर ऑनलाइन गेम पबजी के “प्रभाव में” मां और दो नाबालिग बहनों सहित अपने पूरे परिवार की गोली मारकर हत्या कर दी.

पिछले हफ्ते लाहौर के कहना इलाके में 45 वर्षीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता नाहिद मुबारक अपने 22 वर्षीय बेटे तैमूर और 17 व 11 साल की दो बेटियों के साथ मृत पाई गई थी.

पुलिस ने एक बयान में कहा कि महिला का किशोर बेटा ही हत्यारा निकला और अब वो अपने परिवार में बचा इकलौता शख्स है. पुलिस ने आगे कहा, “पबजी (प्लेयर यूएनडॉग्स बैटलग्राउंड) के आदी लड़के ने कबूल किया कि उसने खेल के प्रभाव में अपनी मां और भाई-बहनों की हत्या की है. दिन में लंबे समय तक ऑनलाइन गेम खेलने के कारण उसे कुछ मनोवैज्ञानिक समस्याएं हो गई हैं.”

मां और तीन भाई-बहनों को नींद में ही मार दी गोली

पुलिस ने कहा कि नाहिद एक तलाकशुदा थी और अक्सर लड़के को उसकी पढ़ाई पर ध्यान न देने और अपना ज्यादातर समय PUBG खेलने में बिताने के लिए डांटती थी. पुलिस ने कहा, “घटना के दिन भी नाहिद ने लड़के को इस बात पर डांटा. बाद में, लड़के ने अलमारी से अपनी मां की पिस्तौल निकाली और उसे और उसके तीन अन्य भाई-बहनों को नींद में ही गोली मार दी.”

लड़के ने कहा, नहीं पता कि मेरे परिवार की हत्या कैसे हुई

बयान में कहा गया, “अगली सुबह लड़के ने अलार्म बजाया और पड़ोसियों ने पुलिस को फोन किया. उस समय लड़के ने पुलिस को बताया कि वह घर की ऊपरी मंजिल पर है और उसे नहीं पता कि उसके परिवार की हत्या कैसे हुई.”

पुलिस ने कहा कि लाइसेंसी पिस्तौल नाहिद ने अपने परिवार की सुरक्षा के लिए रखी थी. इसके साथ ही पुलिस ने बताया कि लड़के ने घटना को अंजाम देने के बाद हथियार को नाले में फेंक दिया था, जहां से उसे अभी बरामद नहीं किया जा सका है.

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!