UAE के राष्ट्रपति का निधन, भारत में भी एक दिन आधा झुका रहेगा राष्ट्रीय ध्वज

RIGHT NEWS INDIA: भारत (India) ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन ज़ायद अल नहयान के निधन के बाद शनिवार को एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है. केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को जारी एक संदेश के अनुसार, भारत सरकार ने निर्णय किया है कि दिवंगत गणमान्य व्यक्ति के सम्मान में 14 मई को पूरे देश में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा.

संदेश के अनुसार, एक दिन के राजकीय शोक के दौरान, सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज को आधा झुका दिया जाएगा और मनोरंजन का कोई भी आधिकारिक कार्यक्रम नहीं होगा. लंबे समय से बीमार शेख खलीफा का शुक्रवार को निधन हो गया. वह 73 साल के थे. वह यूएई के संस्थापक राष्ट्रपति शेख ज़ायद बिन सुल्तान अल नहयान के सबसे बड़े बेटे थे. शेख खलीफा तीन नवंबर 2004 से यूएई के राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक थे. शेख ज़ायद बिन सुल्तान 1971 से लेकर दो नवंबर 2004 तक यूएई के पहले राष्ट्रपति थे. दो नवंबर 2004 को उनका निधन हुआ था.

इधर, यूएई में राष्ट्रपति की मौत के बाद सरकार की तरफ से 40 दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया गया है. 40 दिन तक राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा. राष्ट्रीय शोक के साथ-साथ देश के सभी प्राइवेट और सरकारी सेक्टर्स के लिए तीन दिनों का अवकाश घोषित किया गया है. बता दें कि शेख खलीफा 3 नवंबर 2004 से संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति के पद पर थे. 2019 में वे चौथी बार राष्ट्रपति पद के लिए चुने गए थे. उन्हें अपने पिता के उत्तराधिकारी के तौर पर चुना गया था. उनके शासन में संयुक्त अरब अमीरात में काफी तेजी से विकास हुआ. शेख खलीफा ने अपने शासन काल के दौरान देश को उन बुलंदियों के रास्ते पर ले गए जहां उनके पिता देश को आगे ले जाना चाहते थे. कई इस्लामी राष्ट्र के साथ साथ दूसरे कई बड़े देशों ने शेख खलीफा की मौत पर शोक व्यक्त किया है.

SHARE THE NEWS:

Comments:

error: Content is protected !!