मध्य प्रदेश में दो आदिवासी युवतियों को लाठी डंडों से पीटा, वीडियो वायरल होने पर सात गिरफ्तार

Read Time:4 Minute, 36 Second

मध्यप्रदेश के धार जिले का एक वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में लोग दो आदिवासी युवती को लाठी और डंडे से पीट रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि कोई भी दोनों लड़कियों को बचाने के लिए सामने नहीं आ रहा है। पिटाई करने वाले लड़की के परिवार वाले ही हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में अब तक सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

घटना को लेकर बताया जा रहा है कि चचेरे भाइयों से फोन पर बातचीत करने के लिए दो आदिवासी चचेरी बहनों की उनके ही रिश्तेदारों ने कथित रूप से लाठी-डंडों से जमकर पिटाई कर दी। पुलिस ने बताया कि यह घटना धार जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर टांडा पुलिस थाना इलाके स्थित ग्राम पिपलवा में 22 जून को हुई और सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में सात लोगों को रविवार को गिरफ्तार किया गया है।

वायरल हुए इस वीडियो में एक महिला सहित कई लोग इन दोनों युवतियों को लाठी-डंडों से बेरहमी से पीटते नजर आ रहे हैं और इसके अलावा, वे इन दोनों की चोटी पकड़कर घसीट भी रहे हैं। धार की पुलिस उपाधीक्षक यशस्वी शिंदे ने बताया, ”25 जून को थाना टांडा क्षेत्र के अंतर्गत दो महिलाओं के साथ मारपीट की घटना पुलिस के संज्ञान में आई थी, जिसमें 26 जून को भादंवि की विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध कर सभी आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली गई थी। लेकिन जमानती धाराओं में मामला दर्ज था लिहाजा आरोपियों को जमानत मिल गई थी।”

उन्होंने कहा, ”लेकिन कल शनिवार को वीडियो दोबारा देख कर आज रविवार को मामले में कुछ और धाराएं जोड़ी गई और सभी सातों आरोपियों को दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 151 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।” वहीं, टांडा पुलिस थाना प्रभारी विजय वासकले ने बताया कि यह घटना 22 जून को हुई थी, दोनों युवतियों की उम्र 19 एवं 20 साल की हैं। उन्होंने कहा कि 25 जून को इसका वीडियो आने के बाद हमें पता चला कि इनके परिवार के सदस्यों ने ही इनकी पिटाई की है।

वासकले ने बताया कि पुलिस को पता चला कि उनके परिवार के सदस्य इन लड़कों के साथ फोन पर बातचीत करने से इन दोनों युवतियों से नाराज थे। उन्होंने कहा कि बाद में इन दोनों युवतियों को टांडा पुलिस थाना लाया गया और उनकी शिकायत पर मामला दर्ज किया गया। वासकले ने बताया कि इन युवतियों ने पुलिस को बताया कि उनके ममेरे भाई एवं परिवार के अन्य सदस्यों ने उन्हें गांव में एक स्कूल के पास रोका और उनके द्वारा अपने चचेरे भाइयों से फोन पर बातचीत करने पर आपत्ति की और बाद में उनकी लाठी-डंडों से पिटाई कर दी।

मालूम हो कि मध्यप्रदेश के अलीराजपुर जिले के एक गांव में 28 जून को 20 वर्षीय एक शादीशुदा महिला को नाराज होकर अपने ससुराल से बिना बताये अपने मामा के घर जाने पर उसके मायके वालों ने एक पेड़ पर बांध दिया था और डंडों से उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी थी। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था और उसके बाद इस मामले में चार लोगों को दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा151 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!