मंडी से दो हेलीकाप्टर एक साथ भर सकेंगे उड़ान

हिमाचल प्रेदेश के जिला मंडी के अंर्तगत आने वाली कंगनिधार पर बने हेलिपैड पर से अब दो हेलीकाप्टर एक साथ उड़ान भर सकेंगे और एक साथ लैंडिंग भी कर सकेंगे। भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण के निर्देश पर हेलीपोर्ट साइट पर बन रहे टर्मिनल भवन की साइट को बदला गया है। जिला पर्यटन अधिकारी पंकज शर्मा ने कहा कि टर्मिनल भवन की साइट में बदलाव किया गया है। साइट बदलने से पहले टर्मिनल के निर्माण में बीस लाख की राशि खर्च की गई हैजिसे पूरा करने के लिए 12 महीने का समय दिया गया था। हेलीपोर्ट के निर्माण के लिए करीब चार करोड़ की राशि का बजट अवार्ड किया गया है।  उल्लेखनीय है कि पर्यटन विकास के लिए हिमाचल सरकार ने हेली टैक्सी सेवा के विस्तार के लिए उड़ान-2 योजना बनाई है। सूबे में हेलीपैड की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं। उड़ान-2 में शिमला और धर्मशाला से मनाली के लिए हवाई सेवा शुरू होगी। इन तीनों शहरों की प्रत्येक उड़ान का केंद्र कांगणीधार होगा।

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!