हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में 21 दिन के भीतर गोलीकांड की तीसरी वारदात सामने आई है। अब हरोली उपमंडल के तहत पालकवाह गांव स्थित सोमभद्रा नदी के किनारे एक व्यक्ति ने ट्रैक्टर ट्रॉली पर रेत भरने के लिए जा रहे दो युवकों पर गोली दाग दी गई। गनीमत रही कि युवकों को गोलियों के छर्रे लगे हैं, जिसके चलते दोनों युवक घायल हो गए हैं। युवकों को फौरन उपचार के लिए रिजनल अस्पताल में लाया गया है। वहीं पुलिस ने गोली कांड के आरोपी की धरपकड़ के लिए अभियान तेज कर दिया।

जानकारी के अनुसार, हरोली उपमंडल के तहत पड़ते पालकवाह गांव स्थित सोमभद्रा नदी के किनारे सोमवार देर शाम गोलीकांड की घटना सामने आई है। इस वारदात के दौरान ट्रैक्टर ट्रॉली में रेत भरने के लिए नदी में जा रहे दो युवकों पर एक व्यक्ति ने गोलियां दाग दी। गोलियों के छर्रे लगने के चलते युवक बुरी तरह घायल हो गए हैं।

बताया जा रहा है कि आरोपी व्यक्ति ने अपनी जमीन से ट्रैक्टर नहीं गुजरने देने के चलते इस वारदात को अंजाम दिया है। वारदात के दौरान हरोली उपमंडल के हलेड़ा बिलना गांव निवासी लखजिंद्र सिंह और गुरप्रीत सिंह गोली लगने से घायल हुए। फिलहाल दोनों युवकों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है। दोनों युवक अभी ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर रेत भरने के लिए स्वां नदी की तरफ जा रहे थे। इसी दौरान नदी के तटबंध पर बैठे व्यक्ति ने दोनों ट्रैक्टर सवार युवकों पर गोली चला दी। डीएसपी हैडक्वाटर्र रमाकांत ठाकुर ने कहा कि पुलिस को पालकवाह में गोली चलने की सूचना मिली थी, जिसके बाद पुलिस टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पिछले सप्ताह ही जिला मुख्यालय के नजदीकी गांव में हुए गोलीकांड के दौरान आईटीबीपी के एक एएसआई की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जबकि इससे पूर्व 15 मार्च को जिला मुख्यालय स्थित एक शराब कारोबारी के कार्यालय में घुसकर बंदूक की नोक पर 9 लाख रुपये की लूट करने वाले शातिरों ने कारोबारी के ड्राइवर पर भी 4 राउंड फायरिंग की थी।

error: Content is protected !!