Right News

We Know, You Deserve the Truth…

दो दलित और एक अन्य वर्ग के लड़कों की मुर्गा बना कर की पिटाई, वीडियो वायरल होने पर केस दर्ज

गौरीगंज (अमेठी) में मुंशीगंज थाना क्षेत्र के बंदोइया गांव में पिछड़े वर्ग के दबंगों द्वारा साइकिल चोरी के शक में गांव के ही दो दलित व एक अन्य युवक को मुर्गा बनाकर चलाया। उसके बाद उनकी बांस के डंडे से पिटाई भी की। मुर्गा बनाकर पीटने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा है।

गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक-एक कर चार वीडियो वायरल हुए। इन सभी वीडियो में एक बुजुर्ग समेत कुछ दबंग युवक तीन युवकों को मुर्गा बनाकर चलाते व बांस के डंडे से पीटते दिख रहे हैं। सोशल मीडिया पर तालिबानी सजा देने का वीडियो वायरल होने के बाद मामले की पड़ताल शुरू हुई तो पता चला कि यह वीडियो मुंशीगंज थाना क्षेत्र के बंदोइया गांव के मुसुवापुर चौराहे के पास का है।

दो दिन पूर्व बड़े मंगल के मौके पर यहां सड़क किनारे स्थित एक पीपल पेड़ के पास स्थित आस्था के केंद्र पर भंडारा आयोजित हुआ था। भंडारे के दौरान टेंट आदि लगाया गया था। इसी दौरान यह वीडियो बनाया गया था। युवकों को सजा देने वाले दबंगों को उन पर भंडारे के दौरान साइकिल चोरी करने का शक था। युवकों को पीटने वाले दबंग उनके साथ गाली गलौज भी कर रहे हैं।

होगी सख्त कार्रवाई : सीओ
सीओ गौरीगंज गुरमीत सिंह ने बताया कि वे कई थानों की पुलिस के साथ गांव गए थे। जिन युवकों को पीटा गया है उनकी पहचान बंदोइया के जयप्रकाश कोरी, सुषेन कोरी तथा कटरा रानी के नन्कऊ चौहान के रूप में हुई है। दबंगों ने बंदोइया के ही सतीश कोरी की पत्नी केश कुमारी व उनके पुत्र प्रशांत तथा मुरली के पुत्र रोहित को बाद में घर बुलाकर मारा-पीटा। सजा देने वालों की पहचान कर ली गई है। इनमें मुसवापुर का दयाराम यादव, साड़े यादव, दुर्गा प्रसाद यादव व प्रेम यादव तथा मनीरामपुर का सचिन यादव व वेद यादव समेत कई लोग शामिल हैं। वीडियो में पिटाई करते व उकसाते दिख रहे सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम लगातार दबिश दे रही है।


error: Content is protected !!