उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के एक व्यक्ति ने अपर जिला जज को डाक से पत्र भेजकर एक मामले में आरोपी की जमानत मंजूर करने को कहा है। जमानत न देने पर न्यायाधीश और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। न्यायाधीश ने हाईकोर्ट के महानिबंधक को मामले से अवगत कराया है। महानिबंधक के आदेश पर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज की गई है। पुलिस पत्र भेजने वाले की तलाश में जुट गई है।

न्यायाधीश को धमकी देते हुए लिखा गया है कि उन्हें किस खिड़की से गोली मारी जाएगी, इसके लिए उसने जज के मकान की खिड़कियों और दरवाजों के नाप भी मंगवा लिए है। आगे लिखा है कि अगर उन्हें खुद और अपने परिवार को जिंदा रखना है तो चुन्नीलाल की जमानत मंजूर कर दें, वरना परिवार समेत खात्मा कर दिया जाएगा। अंत में लिखा है कि काम कर दिया तो बढ़िया दावत नहीं तो नेस्तनाबूद कर देंगे। न्यायाधीश ने तहरीर में लिखा है कि उन्हें इलाज के लिए बार-बार अस्पताल जाना पड़ता है। धमकी मिलने के बाद से वह और उनका परिवार मानसिक पीड़ा से गुजर रहेेे हैंं। न्यायाधीश ने एसएसपी से अपनी और परिवार की सुरक्षा के लिए गनर मांगा है। साथ ही एडीएम कंपाउंड स्थित अपने आवास पर सशस्त्र बल तैनात करने को कहा है। एडीजे की तहरीर पर आरोपी फहीम के खिलाफ कोतवाली में धारा 506 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। उसकी तलाश में पुलिस की टीमें मुरादाबाद समेत अन्य जगहों पर रवाना हो गई हैं।

By

error: Content is protected !!