कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने सभी जिलावासियों से इस वर्ष होली का पर्व सामूहिक रूप से न मनाकर अपने परिवार के सदस्यों के साथ मनाने की अपील की है। आज यहां उन्होंने कहा कि सभी होली का पर्व सादगी के साथ अपने घर पर ही मनाएं व भीड़ को न तो जमा करें और न ही भीड़ में शामिल हों। ऐसे कार्यक्रमों से कोरोना का संक्रमण बढ़ने की आशंका है।

राघव शर्मा ने कहा कि जिला ऊना में पिछले कुछ दिनों में कोरोना के मरीजों की संख्या में बढ़ौतरी हुई है, जिसे देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। होली त्योहार पर सार्वजनिक एवं सामूहिक आयोजन को भी प्रतिबंधित किया गया है। किसी भी प्रकार के लंगर, भंडारे व सामूहिक भोज के आयोजन से पूर्व संबंधित एसडीएम की अनुमति लेना जरूरी है। ऐसे आयोजनों में भोजन परोसने वालों, कैटरिेंग का कार्य करने वालों व सेवादारों की आयोजन से 96 घंटे पूर्व प्राप्त की गई कोविड नेगेटिव रिपोर्ट का अनिवार्य किया गया है। आयोजन की अनुमति लेते वक्त आयोजक को कोविड नेगेटिव रिपोर्ट एसडीएम के समक्ष प्रस्तुत करनी होगी।

उन्होंने कहा कि जिला ऊना के निवासियों ने कोरोना संक्रमण को रोकने में पहले भी भरपूर सहयोग दिया है तथा अब एक बार पुनः मामलों में बढ़ौतरी को देखते हुए सभी से सहयोग की अपेक्षा है। सभी से अपील करते हुए राघव शर्मा ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जारी किए जा रहे निशा-निर्देशों का पालन करें और वायरस के संक्रमण को रोकने में सहयोगी बनें। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों के अधिकारी धार्मिक संस्थानों, सार्वजनिक जगहों, ढाबों, दुकानों, होटलों व अन्य उद्योगों का निरंतर निरीक्षण कर रहे हैं तथा नियमों की अवेहलना पर कड़ी कार्रवाई कर रहे हैं।

error: Content is protected !!