ज्वालामुखी की घलोड़ा पंचायत में 200 लोग आज भी सड़क से वंचित, ध्वाला जाएंगे मौके पर

Read Time:5 Minute, 32 Second

ज्वालामुखी की घलौड़ा पंचायत के वार्ड नंबर दो के टिल्ला वासियों को आजादी के 74 वर्ष बीतने के बाद भी आने-जाने के लिए रास्ता नहीं है। इतने वर्ष के बाद भी लोगों को पक्की सड़क तो क्या रास्ता तक नसीब नहीं हो पाया है। ग्रामीण बिहारी लाल, विशन दास, देसराज, जालम सिंह, श्रवण सिंह, सुभाष चंद, प्रकाश चन्द, निक्का राम, मनोज कुमार, करनैल सिंह, संजीव सिंह, अवतार सिंह, राजेश कुमार आदि ग्रामीणों ने बताया कि उनके वार्ड टिल्ला में 200 के करीब आबादी है। लेकिन उन्हें आवाजाही के लिए पक्‍का रास्ता तक नहीं है। बरसात के मौसम में दलदल हो जाने के कारण पैदल चलना बहुत मुश्किल हो जाता है। बिन बरसात भी इस खड्ड नुमा रास्ते से आने जाने में बहुत कठिनाई पेश आती है।

लोगों का जीना बड़ा मुश्किल है। अगर कोई व्यक्ति बीमार हो जाए या महिला की डिलीवरी हो तो गांव वाले उसे चारपाई में डाल कर सड़क तक पहुंचाते हैं। रास्ते का न बनना सरकार व स्थानीय प्रशासन की घोर लापरवाही है। अगर उन्हें समय रहते अस्पताल न पहुंचाया जाए तो जच्चा और बच्चा दोनों की जान खतरे में रहती है। रास्ता न बनने के कारण लोगों में प्रशासन के प्रति भारी आक्रोश है।

लोगों का कहना है कि उनके गांव के लिए जो रास्ता पहले था, उसे कुछ प्रभावशाली लोगों ने कंटीली तार लगाकर बंद कर दिया है। पंचायत द्वारा रास्ते के लिए स्वीकृत राशि का बकायदा बोर्ड भी लगाया है कि बावड़ी तक रास्ता पक्का कर दिया है, जबकि सच्चाई कुछ और ही बयान कर रही है। उक्त रास्ता बावड़ी से करीब 400 मीटर दूर है। लोग रास्ता बनाने को लेकर कई बार पंचायत तथा प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं। लेकिन आज तक समस्या का हल नहीं हो सका है। लोगों ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा है अगर जल्द से जल्द उनका रास्ता नहीं बनाया गया तो वे आगामी विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने पर मजबूर हो जाएंगे।

क्‍या कहना है विभाग का

लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता हुकम चंद चौधरी ने कहा मौका पर जाकर ही इस समस्या को समझा जा सकता है। विभाग की टीम वहां पर जाएगी और मौके का निरीक्षण करेगी सब कुछ अनुकूल हुआ तो विभाग लोगों की समस्या का हल जरूर करेगा।

बोले धवाला, स्वयं मौके पर जाएंगे

स्थानीय विधायक रमेश धवाला ने कहा कि लोगों की समस्या का हल निकालने के लिए वें स्वयं मौका पर जाएंगे और देखेंगे वहां पर क्या भूमि विवाद चल रहा है, उसके बाद लोगों को आपस में बिठाकर समस्या का हल करवा दिया जाएगा।

Get news delivered directly to your inbox.

Join 897 other subscribers

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!