रात में पुलिस चौकी का ताला तोड़कर 2 राइफल और 150 कारतूस ले गए चोर; जवान सोते रह गए

Read Time:5 Minute, 4 Second

Madhya Pradesh News: MP के मुरैना पुलिस का भी गजब हाल है। यहां डकैत तो दूर पुलिस से चोर भी नहीं डर रहे हैं। रात में पुलिस इतनी गहरी नींद में सो रही है कि चोरों की धमक अपनी ही चौकी में सुनाई नहीं दे रही है। बुधवार की देर रात चोरों ने पुलिस चौकी के अंदर घुस कर मालखाने का ताला तोड़ दिया और 2 राइफल के साथ 150 कारतूस चुरा ले गए। सुबह नींद खुली तो हथियार नहीं मिले। अब सिपाही से लेकर SP तक सब की नींद उड़ी है। मामला दर्ज नहीं किया गया है। पुलिस चाहती है कि बगैर केस दर्ज किए ही आरोपी को ढूंढ़ा जाए वर्ना बहुत किरकिरी हो जाएगी।

घटना जिले के दिमनी थाना के मिर्घान पुलिस चौकी की है। यहां पर चौकी इंचार्ज और दो सिपाही तैनात हैं। रात में तीनों सो गए। पहले से ताक में बैठे चोरों ने मालखाने का ताला तोड़ा और हाथ साफ करके भाग गए। सुबह चार बजे जब दोनों सिपाहियों की आंख खुली तो मालखाने का ताला टूटा मिला। जब अंदर देखा तो दो राइफल गायब थीं। कुछ कारतूस जमीन पर पड़े थे। उन्हें देखकर सिपाहियों के होश उड़ गए। दोनों ने पुलिस चौकी प्रभारी और एडिशनल SP रायसिंह नरवरिया को सूचना दी गई। आनन-फानन में SP ललित शाक्यवार और पुलिस का अमला चौकी पर पुहंचा। छानबीन शुरू हुई। फिलहाल पुलिस जांच की बात कह रही है।

अब आम आदमी क्या करें
घर में चोरी के बाद लोग पुलिस के पास जाते हैं, लेकिन जब पुलिस की चौकी में ही चोरी हो जाए तो, वह किस के पास जाए। इसी बात का डर अपनी चौकी में हुई चोरी से पुलिस की बदनामी हो रही है।

ये कैसी मुस्तैद पुलिस
पुलिस दूसरों की सुरक्षा का दावा करती है, वह खुद सो रही है। फिलहाल इस घटना के बाद जिले की पुलिस की बहुत किरकिरी हो रही है। इस बदनामी से बचने के लिए पुलिस अब, जांच की बात कहकर इस मामले को दबा रही है। सूत्रों का कहना है कि पुलिस इस फिराक में है कि अगर चोरी हुईं बंदूकें बरामद हो जाती हैं तो इस मामले पर पूरी तरह मिट्‌टी डाल दी जाए, जिससे बदनामी से बचा जा सके।

डॉग स्क्वाॅड को बुलाया
पुलिस ने तुरंत डॉग स्क्वॉड को बुलाया, लेकिन सब बेकार। फिलहाल, पुलिस को चोरों का कुछ भी सुराग नहीं मिला सका है। पुलिस इस मामले को प्रेस्टीज प्वाइंट बनाकर चल रही है। क्योंकि, इस मामले के बाद जिले में पुलिस की बहुत किरकिरी हो रही है।

लापरवाही आई सामने
इस मामले में पुलिस को लापरवाही सामने आ रही है। पुलिस का काम रात में सोने का नहीं जागने का है। सवाल, यह है कि अगर पुलिस रात में जाग रही थी तो चोरी कैसे हो गई। अगर सो रही थी, तो क्या वह आम जनता की सुरक्षा कर सकती है। फिलहाल इस घटना के बाद पूरे जिले की पुलिस चोरी हुई राइफल व कारतूस बरामद करने की कोशिश में लग गई है।

आईजी ने कहा- शायद राइफल चोरी नहीं हुई
राइफलों की चोरी शायद नहीं हुई है। इसमें विभाग की लापरवाही रही है। आप इस संबंध में SP से बात कर लें। सारी बातें स्पष्ट हो जाएंगी।
मनोज शर्मा, आईजी चंबल रेंज

Share This News:

Get delivered directly to your inbox.

Join 883 other subscribers

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!