तीन तरह के होते हैं मोबाइल फोन, कभी चेक किया आपके पास कौन सा है? यहां पढ़कर पता कीजिए

Read Time:4 Minute, 3 Second

मोबाइल फोन आज करोड़ों लोगों के पास है. तमाम तरह के आंकड़े रखने वाली एक प्रतिष्ठित वेबसाइट statista.com के मुताबिक 2020 में करीब 69 करोड़ लोगों के पास स्मार्टफोन था. किसी के पास, एक मोबाइल हो सकता है, तो कोई-कोई 3-4 मोबाइल भी रखता है. लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि आप जो मोबाइल इस्तेमाल कर रहे हैं, वो कौन सा है? क्योंकि मोबाइल तीन तरह के होते हैं और इन तीनों की अपनी-अपनी खासियत है. इसलिए हम आपको इसकी पूरी डिटेल बता रहे हैं. ताकि आपको इतना तो पता हो कि आपके हाथ में जो मोबाइल है वो कौन सा है.

तीन तरह के होते हैं मोबाइल फोन

मोबाइल फोन तीन तरह के होते हैं. पहला है सेल फोन. दूसरा है फीचर फोन और तीसरा है स्मार्टफोन, जो आजकल सबसे ज्यादा चलन में है. दुनियाभर की तमाम कंपनियां अभी इसी सेगमेंट के फोन बना रही हैं.

सेल फोन: जब सबसे पहले मोबाइल लॉन्च हुआ, तो इसे सेल फोन कहा गया. सेल फोन से इतना ही काम हो पाता था कि कोई आदमी कॉल कर सके और रिसीव कर सके. इसके साथ ही वह मैसेज भेज सके और दूसरों के भेजे गए मैसेज पढ़ सके. उस समय ये काफी महंगे हुआ करते थे. साल 1973 में पहला सेल फोन मोटोरोला कंपनी ने पेश किया था और इसका वजन करीब दो किलो था. हालांकि, दुनिया का पहला फोन जो बिक्री के लिए उपलब्ध हुआ वो था मोटोरोला DynaTAC 8000X.

फीचर फोन: तकनीक बदलती गई और नई-नई कंपनियां फोन बनाने में लग गईं. हालांकि, नोकिया और मोटोरोला दो शुरुआती ऐसे नाम थे जो इस कारोबार में उतरे. नई तकनीक के साथ जो फोन बने उन्हें कहा गया फीचर फोन. इस फोन में लोगों को फोन कॉल और मैसेज के साथ-साथ mp3 गाने और mp4 वीडियो देखने की सुविधा भी दी गई. फीचर फोन में कुछ वीडियो गेम भी आए. आपमें से बहुत सारे लोगों को शायद याद हो, शुरुआत के नोकिया वाला फोन में सांप वाला एक गेम आता था. वो सारे फीचर फोन थे. हालांकि, फीचर फोन में कंपनियां धीरे-धीरे बदलाव करती रहीं और बाद में इनमें ब्लूटूथ की भी शुरुआत हुई.

स्मार्टफोन: जिस फोन में इंटरनेट, कैमरा, ब्लूटूथ, स्टोरेज, ऐप्स, डाउनलोड आदि की सुविधा मिले वो है स्मार्टफोन. लेकिन इतने के बावजूद भी आज भी देश में काफी लोग फीचर फोन का इस्तेमाल करते हैं. अगर आपने फैमिली मैन-2 में चेल्ल्म सर को देखा होगा, तो वो भी फीचर फोन का इस्तेमाल करते हुए नजर आते हैं. क्योंकि इंटरनेट न होने की वजह से इसे ट्रैक करना बेहद मुश्किल होता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ताइवान की कंपनी HTC ने भारत का पहला स्मार्टफोन जून, 2009 में लॉन्च किया था. इसकी कीमत 30 हजार रुपए के करीब थी. शुरुआती स्मार्टफोन एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म पर चलते थे, जो आज भी बेस्ट सेलिंग कैटेगरी में आते हैं.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!