कोरोना की दूसरी लहर के चलते इस बार फिर से मार्च के अंत में पिछले साल की तरह ही कोरोना की बंदिशें लौट रही हैं। इस बार भी राष्ट्र स्तरीय सुजानपुर होली मेला लगने से पहले ही बंद हो गया है। सुजानपुर होली मेले में आए दुकानदारों को भी 23 मार्च तक अपना समान समेटना पड़ेगा। हमीरपुर जिला के दियोटसिद्ध में चल रहे चैत्र मेले भी अब बन्द होंगे तथा मेलों के दौरान चल रही सभी सराय भवन भी बंद होंगे और कोई भी लंगर बगैरह नहीं लगेगा। हालाकि मंदिर खुला रहेगा लेकिन इसके प्रवेश पर भी नए नियम लागू होंगे। वहीं इस बार छिंज मेलों, जगरातों और अन्य मेलों का भीआयोजन नहीं होगा। इनके आयोजनों पर भी कोरोना की नई बंदिशों के चलते पूर्णत: रोक लग गई है।

कोरोना की दूसरी लहर के चलते नई बंदिशों के चलते कहीं भी भीड़ इकट्ठा नहीं हो सकती है और ऐसे सभी आयोजन नहीं होंगे, जिनमें भीड़ इकट्ठा होती हो। एडीएम जितेंद्र सांजटा ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सरकार ने नए नियम और कोरोना की बंदिशें फिर से लगा दी है जिनके चलते 23 मार्च के बाद कोई भी मेले या दंगल बगैरह नहीं होंगे, जहां भीड़ इकट्ठा होती हो। इसी के चलते दियोटसिद्ध व सुजानपुर होली मेले पर भी रोक लग गई है तथा दुकानदार 23 मार्च तक अपना समान समेट सकते हैं।

error: Content is protected !!