FIFA World Cup 2022: कतर के वो शानदार आठ स्टेडियम जहां होंगे फीफा वर्ल्ड कप के 64 मुकाबले, देखें PHOTOS

0
2

RIGHT NEWS INDIA: फीफा वर्ल्ड कप-2022 के लिए टीमें कतर पहुंचने लगी हैं. पिछले विश्व कप आयोजनों की तुलना करें, तो कतर अब तक विश्व कप का आयोजन करने वाले देशों में सबसे छोटा है.

चाहे वह आकार का मामला हो या आबादी का. यहां पर जिन आठ स्टेडियम में मैच होंगे, उनमें से केवल एक ही पहले से मौजूद थे. कतर के सभी 8 स्टेडियम 60 किलोमीटर के दायरे में हैं, जो इसे सबसे कॉम्पैक्ट वर्ल्ड कप बनायेंगे. फैंस 90 मिनट में एक से दूसरे स्टेडियम तक पहुंच सकते हैं.

लुसैल स्टेडियम

दोहा में लुसैल स्टेडियम कतर फीफा वर्ल्ड कप में आकर्षण का केंद्र होगा. यह वर्ल्ड कप में सबसे बड़ा स्टेडियम होगा. गर्मी से निबटने के लिए खास कूलिंग सिस्टम लगाये हैं. यहीं पर वर्ल्ड कप का फाइनल खेला जायेगा. निर्माण 2017 में शुरू हुआ था. ब्रिटिश-इराकी वास्तुकार जाहा हदीद द्वारा स्टेडियम का डिजाइन किया गया है. यह पारंपरिक मोती मछली पकड़ने वाली नौकाओं के पतवारों से प्रेरित था. इसकी दर्शक क्षमता 40 हजार है.

स्टेडियम 974

स्टेडियम 974 नाम स्टेडियम के निर्माण में इस्तेमाल किये गये शिपिंग कंटेनरों की संख्या और देश के अंतरराष्ट्रीय डायलिंग कोड को ध्यान में रखते हुए रखा गया है. निर्माण कार्य 2017 में शुरू हुआ था,जो पिछले साल पूरा हुआ. वर्ल्ड कप के बाद इसे नष्ट कर दिया जायेगा.

उद्घाटन मैच और समारोह अल बायत स्टेडियम पर होंगे. यह वर्ल्ड कप का दूसरा सबसे बड़ा स्टेडियम है. इसे खाड़ी क्षेत्र में खानाबदोश लोगों द्वारा उपयोग किए जाने वाले तंबू की तरह बनाया गया था. 30 नवंबर, 2021 को इस स्टेडियम को खोला गया था.

एजुकेशन सिटी स्टेडियम

एजुकेशन सिटी स्टेडियम को दुनिया के सबसे पर्यावरण के अनुकूल स्टेडियमों में से एक माना जाता है. यह कतर के शैक्षणिक संस्थानों से घिरा हुआ है, जो टूर्नामेंट बंद होने के बाद भी स्टेडियम का उपयोग करना जारी रखेंगे.

खलीफा इंटरनेशनल स्टेडियम

खलीफा इंटरनेशनल स्टेडियम 1976 में बनाया गया था. नवीनीकरण 2017 में पूरा हुआ. इसका नाम कतर के पूर्व अमीर खलीफा बिन हमद अल थानी के नाम पर रखा गया है. यह राष्ट्रीय टीम का होम ग्राउंड है.

अल थुमामा स्टेडियम

अल थुमामा स्टेडियम का उपयोग वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल तक किया जायेगा. कतरी वास्तुकार इब्राहिम एम जैदाह ने मध्य पूर्व में पुरुषों और लड़कों द्वारा पहने जाने वाले पारंपरिक तकियाह हेडकैप से प्रेरणा लेकर मैदान को डिजाइन किया गया है.

अहमद बिन अली स्टेडियम

अल-रेयान में अहमद बिन अली स्टेडियम का निर्माण 2003 में हुआ था. इसकी दर्शक क्षमता 44,740 है. यहां पर अमेरिका, वेल्स, बेल्जियम, कनाडा, ईरान, जापान, कोस्टा रिका, इंग्लैंड और क्रोएशिया की टीमें ग्रुप राउंड में अपना मैच खेलेंगी.

1978 के बाद इस बार सबसे कम स्टेडियम में हो रहे हैं मैच. सबसे ज्यादा साल 2002 जापान व द कोरिया के 20 स्टेडियम में वर्ल्ड कप खेला गया था.

टिकटों के दाम

ग्रुप स्टेज : 53 हजार से 4.79 लाख तक

प्री-क्वार्टर : 37 हजार से 18 लाख तक

क्वार्टर : 47 हजार से 3.40 लाख तक

सेमीफाइनल : 77 हजार से 3.5 लाख तक

फाइनल : 2.25 लाख से 13.39 लाख तक

समाचार पर आपकी राय: