डैंड्रफ का रामबाण इलाज: सरसों तेल में मिला कर बालों में लगाएं ये 1 चीज और डैंड्रफ का सफाया

0

डैंड्फ बालों की एक ऐसी समस्या है जिससे हर मौसम में लोग परेशान रहते हैं। ये समस्या असल में नमी, गदंगी और स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन की कमी के कारण होती है। इसके अलावा जिन लोगों को पपड़ीदार रूसी की समस्या होती है उनमें ये हर बार ये लौटकर आ जाती है।

लेकिन, आज हम गांव में रूसी भगाने के लिए इस्तेमाल होने वाले एक रामबाण इलाज के बारे में बताएंगे जो इस समस्या में कारगर तरीके से काम करती है। दरअसल, बात हम सरसों तेल और नींबू (lemon with mustard oil for hair) की कर रहे हैं।

डैंड्रफ का देसी इलाज है सरसों का तेल और नींबू-Mustard oil with lemon for hair dandruff in hindi

नींबू और सरसों के तेल को मिला कर स्कैल्प पर लगाने से बालो में डैंड्रफ की समस्या से निजात पाया जा सकता है। दरअसल, गांव में इस देसी इलाज का खूब इस्तेमाल होता है। ये काफी कारगर भी है क्योंकि सरसों के तेल में एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होता है जो कि स्कैल्प से फंगल और बैक्टीरिया को मार देता है। दूसरा, नींबू सा साइट्रिक एसिड पुरानी से पुरानी रूसी का सफाया कर देता है। जब आप इन दोनों को मिला कर बालों में लगाते हैं तो ये स्कैल्क मॉइस्चराइज करने के साथ हर प्रकार के डैंड्रफ से छुटकारा दिलाता है।

डैंड्रफ में कैसे करें सरसों का तेल और नींबू का इस्तेमाल-How to use Mustard oil with lemon for dandruff

इसका इस्तेमाल काफी कारगर है। पहले तो सरसों का तेल लें और इसे गर्म कर लें। फिर इसमें कम से कम 2 नींबू का रस निचोड़ कर मिला लें। अब बालों को पहले कंघी कर लें और पूरे स्कैल्प पर बालों को हटा-हटा कर लगाएं। आपको इसका असर अपने आप लगाने के दौरान ही महसूस होने लगेगा। अब लगाने के बाद कम से कम 2 घंटे बालो को ऐसे ही रहने दें और फिर नॉर्मल तरीके से शैंपू कर लें। इसके बाद अपने बालों को चेक करें, डैंड्रफ नजर नहीं आएगा।

नींबू और सरसों का तेल लगाने के फायदे-Mustard oil and lemon for hair benefits

डैंड्रफ की समस्या के अलावा भी नींबू और सरसों का तेल बालों के लिए कई प्रकार से फायदेमंद है। ये बालों को अंदर से नमी देने के साथ स्कैल्प पोर्स को साफ करता है। साथ ही सरसों तेल आपकी बालों की मजबूती और ग्रोथ बढ़ाने में भी मददगार है। इसके अलावा इसे लगाने के बाद जब आप अपने बालों में शैंपू देखेंगे तो आपको एक अलग चमक और सॉफ्टेस नजर आएगी।

Previous articleपृथ्वी से 880 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर भारत के वैज्ञानिकों को मिला रेडियो सिग्नल
Next articleबागेश्वर धाम बाबा धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के मामले में संत समाज हुआ दो फाड़, रामदेव, देवकीनंदन और शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद ने रखी अपनी बात

समाचार पर आपकी राय: