Income Tax Return: अगर एक साल में बदल चुके हैं दो नौकरियां तो आइटीआर फाइल करने में बरतें ये सावधानी

0
40

नई दिल्ली। आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करने की आखिरी तारीख बेहद 31 जुलाई है। अगर आपने अब तक अपना आइटीआर नहीं भरा है तो अतिशीघ्र भर दें। वेतनभोगी करदाताओं के लिए आइटीआर फॉर्म 1 भरना आवश्यक है। इसके लिए नियोक्ता द्वारा जारी किए गए फॉर्म 16 (Form 16) की जरूरत होती है। इसमें वित्तीय वर्ष के दौरान नियोक्ता द्वारा काटे गए टीडीएस (TDS) का विवरण होता है। आपके नियोक्ता को हर साल 15 जून को या उससे पहले आपको फॉर्म 16 जारी करना अनिवार्य है।

अपनी आय और अनुभव को बढ़ाने के लिए आजकल लोग तेजी से नौकरियां बदल रहे हैं। यह एक बहुत सामान्य प्रथा है। नौकरी बदलने की बढ़ती प्रवृत्ति को देखते हुए कई करदाताओं के पास एक से अधिक फॉर्म 16 जमा होते जाते हैं, जो विभिन्न नियोक्ताओं द्वारा उनको दिए जाते हैं। ऐसे में जब कर रिटर्न (Tax Return) दाखिल करने की बात आती है तो वे परेशान होने लगते हैं कि एक से अधिक फॉर्म 16 के साथ अपना आइटीआर कैसे दाखिल किया जाए ! 

अगर आपके पास हैं दो फॉर्म 16

सबसे पहले और महत्वपूर्ण बात यह है कि खुद को तनाव न दें। एक से अधिक फॉर्म 16 होने का मतलब यह नहीं है कि आप अपना आइटीआर खुद दाखिल नहीं कर सकते। एक से अधिक फॉर्म 16 के साथ आइटीआर फाइल करने के तीन तरीके हैं। आइए, सबसे सरल और आसान तरीके से शुरू करते हैं।टैक्स फाइलिंग पोर्टल्स का उपयोग करें

विभिन्न टैक्स फाइलिंग वेबसाइट मामूली कीमत पर आइटीआर फाइलिंग की सुविधा प्रदान करती हैं। कुछ तो यह सेवा मुफ्त में भी देती हैं। आप ऐसे पोर्टल पर जाएं और अपना रजिस्ट्रेशन करने के बाद एक लॉगिन आईडी बनाएं। इसके बाद आपको दोनों फॉर्म 16 अपलोड करना होगा। यदि आपके पास फॉर्म 16 की केवल भौतिक प्रतियां हैं तो आप मैन्युअल रूप से प्रत्येक का विवरण भर सकते हैं। इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें। ऑनलाइन पोर्टल आपकी आय, छूट और कटौती की आवश्यक गणना स्वयं करेंगे। इस प्रक्रिया में आपका अधिक प्रयास नहीं लगेगा और कुछ ही समय में आपका काम आसानी से हो जाएगा।

Leave a Reply