क्या ई श्रम कार्ड के इस फायदे के बारे जान कर आप हो जाएंगे दंग, अभी पढ़ें और जाने पूरी डिटेल

कोरोना काल में सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले असंगठित क्षेत्र मजदूरों के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने ई श्रम योजना ( e-shram yojana ) शुरू की है. सरकार ने इसके लिए एक ई श्रम पोर्टल ( e-shram portal ) बनाया है, जिस पर ऐसे श्रमिक या मजदूर अपना रजिस्ट्रेशन ( e-shram portal online registration ) करा सकते हैं जो असंगठित क्षेत्र से जुड़े हुए हैं.

इस योजना का उद्देश्य ऐसे मजदूरों को सरकारी योजनाओं का सीधा लाभ पहुंचाने का है. यही नहीं सरकार ने ई श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन ( e-shram card benefits in hindi ) कराने वाले मजदूरों के खाते में 500-500 रुपए भी भेज दिए हैं. जबकि बताया जा रहा है कि जल्द ही सरकार की ओर से यह रकम बढ़ाई जा सकती है. लेकिन यहां सबसे ज्यादा जरूरी बात यह है कि जिन लोगों के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है, उनको इसके लाभों की पूरी जानकारी भी नहीं है. ऐसे में आज हम आपको ई श्रम योजना का एक ऐसा लाभ बताने जा रहे हैं, जिसकी अधिकांश लोगों को खबर नहीं है.

सरकार की ओर से तैयार किया जा रहा पूरा डाटाबेस

दरअसल, ई श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले मजदूरों का सरकार की ओर से पूरा डाटाबेस तैयार किया जा रहा है. इस क्रम में पोर्टल पर पंजीकृत मजदूरों को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का लाभ मिलेगा. इसके लाभार्थी प्रधानमंत्री जीवन ज्योगी बीमा योजना पीएम श्रम योगी मानधन योजना का लाभ ले सकेंगे. प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत अगर ई श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड मजदूर की किसी कारणवश मृत्यु हो जाती है तो उसके परिजनों को 2 लाख रुपये मिलेंगे. वहीं, किसी दुर्घटना में मजदूर के पूर्ण अपंग होने पर 2 लाख रुपए की मदद दी जाएगी. इसके साथ ही मजदूर के आंशिक रूप से विकलांग होने पर एक लाख की सहायता राशि प्रदान की जाएगी. यहां सबसे बड़ी बात यह है कि ई-श्रम कार्ड पूरे देश में मान्य होगा. इसका एक फायदा यह भी होगा कि इस योजना के तहत श्रमिकों को दूसरे राज्यों में काम मिलने में भी आसानी होगी.

उम्र 16 साल से अधिक व 60 साल से कम होनी चाहिए

आपको बता दें कि ई श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने वाले की उम्र 16 साल से अधिक व 60 साल से कम होनी चाहिए. इसके साथ ही मजदूर आयकर के दायरे में न आता हो. ईपीएफओ व ईएसआईसी के मेंबर को योजना का लाभ नहीं मिल सकेगा. श्रम मंत्रालय की ओर से पोर्टल पर रजिस्टर करने वाले मजदूरों को 12 डिजिट का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर दिया जाएगा.

Please Share this news:

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!