“मैं मंगल ग्रह से हूँ, पृथ्वी पर पुनर्जन्म हुआ है” इस बच्चे ने भविष्यवाणी कर बताया कैसे होगा धरती का विनाश

रूस. दुनिया के सबसे बड़े देश रूस (Russia) के वोल्गोग्राड (Volgograd) में रहने वाले एक लड़के ने बड़ा ही चौंकाने वाला दावा (Shocking Claim) किया है। उसने कहा कि पहले वह मंगल ग्रह (Mars) पर रहता था। वह इंसानों के बचाने के लिए पृथ्वी पर आया है।

उसका पुनर्जन्म हुआ है। द सन (The Sun) की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चे का नाम बोरिस्का किप्रियानोविच (Boriska Kipriyanovich) है। जब वह 11 साल का था जब उसने 2007 के वीडियो में पृथ्वी (Earth Destroyed) को बचाने के लिए चेतावनी दी थी।

परमाणु संघर्ष से खत्म हो सकती है पृथ्वी
बोरिस्का ने कहा कि हजारों साल पहले परमाणु संघर्ष (Nuclear Conflict) की वजह से उसके एलियन समुदाय का सफाया हो गया। उसे डर है कि पृथ्वी भी अब उसी तरफ बढ़ रही है। जब बच्चे की मां से इन कयासों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें पृथ्वी को लेकर की गई भविष्यवाणी के बारे में कुछ भी नहीं पता है। मीडिया में इस बच्चे को द बॉय फ्रॉम मार्स के नाम से भी जाना जाता है।

‘स्फिंक्स’ के रहस्य का जिक्र किया
बोरिस्का ने यह भी कहा कि मिस्र के महान स्फिंक्स में एक रहस्य है। जब उजागर किया जाएगा तो पृथ्वी पर जीवन हमेशा के लिए बदल जाएगा। उसने दावा किया कि उसकी प्रजाति का मिस्रवासियों से गहरा संबंध है। वह पिछले जीवन में मंगल ग्रह पर एक पायलट था। बोरिस्का खुद को इंडिगो चाइल्ड कहता है। उसका कहना है कि पृथ्वी पर जीवन फिर कभी वैसा नहीं होगा जब गीजा के रहस्य सबके सामने आ जाएंगे।

मंगल ग्रह पर 35 साल बाद नहीं बढ़ती उम्र
बोरिस्का ने कहा कि मंगल ग्रह पर वह एक फाइटर पायलट था। ग्रह को बचाने के लिए कई लड़ाइयों में शामिल हुआ। इतना ही नहीं, मंगल ग्रह पर 35 साल के बाद उम्र नहीं बढ़ती है। वे बहुत लंबे, तकनीकी रूप से तेज और साइंस में आगे हैं। उसने कहा कि मुझे वह समय याद है जब मैं 14 या 15 साल का था। मार्टियन हर समय युद्ध कर रहे थे इसलिए मुझे अक्सर अपने एक दोस्त के साथ एयर अटैक में शामिल होना पड़ता था।

Please Share this news:
error: Content is protected !!