End of the World: यह है दुनिया का आखिर छोर, यहां जाने और ड्राइव करने दोनों पर है सख्त मनाही

दुनिया गोल है हम सब जानते हैं और हम सबके दिमाग़ में एक बात ये भी आती है कि दुनिया का आख़िरी छोर क्या है और कहां है? अक्सर सड़क देखते हुए ये दिमाग़ में आता है कि ये ख़त्म कहां होती होगी?

लेकिन आपका ये सवाल आज भी जवाब का मोहताज़ है क्योंकि इसका जवाब शायद ही किसी के पास हो. इसका जवाब देने की कोशिश हम कर रहे हैं, जिसमें हम आपको दुनिया के आख़िरी छोर और दुनिया की आख़िरी सड़क के बारे में बताएंगे, जिसके बाद दुनिया ख़त्म हो जाती है.

दुनिया की आख़िरी सड़क 14 किलोमीटर लंबा एक हाईवे है, जिसका नाम E-69 और इसे दुनिया का आख़िरी छोर माना जाता है. इस हाईवे पर कुछ जगह ऐसी हैं, जहां पैदल चलना और गाड़ी चलाना दोनों सख़्त मना है. ये सड़क पृथ्वी के सबसे सुदूर नॉर्थ पोल में है और ये नॉर्वे का आख़िरी छोर है. साथ ही ये वो बिंदु है जहां पर पृथ्वी की धुरी घूमती है.

जानकर हैरानी होगी कि इस सड़क के आगे न कोई रास्ता है और न कोई सड़क है, बस इसके आगे बर्फ़ ही बर्फ़ और समुद्र दिखाई देता है. ये सड़क लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बनी रहती है क्योंकि लोग देखना चाहते हैं कि आख़िर दुनिया का आख़िरी छोर कैसा दिखता है? मगर यहां पर अकेले जाना और ड्राइविंग करना दोनों मना है.

दरअसल, इस सड़क को देखने जाना है तो ग्रुप में जाना पड़ेगा, क्योंकि बर्फ़ ही बर्फ़ होने की वजह से यहां जाने वाले अक्सर रास्ता भूल जाते हैं. इसके अलावा ठंड भी बहुत ज़्यादा होती है, इसलिए 14 किलोमीटर लंबे इस रास्ते पर कोई भी अकेला नहीं जाता है.

ये रहीं इससे जुड़ी कुछ और हैरान करने वाली बातें

नॉर्थ पोल यानि उत्तरी ध्रुव के पास होने की वजह से यहां पर सर्दियों के मौसम में रात ही रहती है, लेकिन कभी-कभी 6 महीने तक बिल्कुल भी सूरज नहीं दिखता है और 6 महीने तक सिर्फ़ रात ही रहती है. वहीं गर्मियों के मौसम में यहां सूरज कभी नहीं डूबता है. गर्मी में यहां तापमान ज़ीरो डिग्री सेल्सियस होता है तो ठंड में ये -45 डिग्री तक नीचे चला जाता है.

Please Share this news:
error: Content is protected !!