महिला के पीछे खड़े होकर सीक्रेट कैमरे से बना रहा था अश्लील फ़िल्म, पुलिस ने भेजा जेल

ब्रिटेन में एक शख्स दिन-दहाड़े एक सीक्रेट कैमरा से एक महिला की अश्लील वीडियो बनाने की कोशिश कर रहा था. 62 साल का ये व्यक्ति सेंट्रल लंदन के बैंक अंडरग्राउंड स्टेशन में एस्केलेटर पर चल रहा था और अपने सामने चल रही महिला का अश्लील वीडियो बनाने की कोशिश कर रहा था.

मार्टिन इजरायल से ब्रिटेन आया था. उसे बैंक अंडरग्राउंड स्टेशन के बाहर से एक पुलिस अफसर ने गिरफ्तार कर लिया. इस पुलिस अफसर को मार्टिन पर शक हुआ था जिसके बाद उसने इसे फॉलो किया था. ये शख्स उस समय इस महिला के पैरों की और स्कर्ट की फुटेज चेक कर रहा था.

इस सर्च के दौरान मार्टिन के पास से एक खुफिया कैमरा पेन, दो मोबाइल फोन, दो ऑयस्टर कार्ड्स और एक कैमरा बरामद हुआ था. इस क्षेत्र की सीसीटीवी फुटेज से भी साबित हुआ कि मार्टिन इस महिला को फॉलो कर रहा था. पुलिस के साथ पूछताछ में मार्टिन ने चौंकाने वाला खुलासा किया.

मार्टिन ने कहा कि वो अपने फोन के फ्लैश को सेलोटेप से कवर कर लेता था ताकि किसी की सीक्रेट रिकॉर्डिंग करते वक्त आसपास के लोगों या पीड़िता को पता ना चलने पाए. मार्टिन ने बताया कि वो ब्रिटेन में अपने परिवार से मिलने आया था और वो एक हफ्ते बाद वापस इजरायल जाने वाला था.

कोर्ट ने इसके अलावा पुलिस को कहा है कि मार्टिन के सभी फोन और कैमरा से सभी सिम और मेमोरी कार्ड्स को नष्ट किया जाए. इस मामले में बात करते हुए डिटेक्टिव चीफ इंस्पेक्टर सारा व्हाइट ने कहा मार्टिन स्टोन के पास से जो चीजें बरामद हुई हैं, उससे साफ होता है कि वो काफी समय से इन कामों में लिप्त था.

उन्होंने आगे कहा कि हमारे पास सादे कपड़ों में ऐसे कई पुलिस अफसर हैं जिन्हें इसी तरह की संदिग्ध गतिविधियों के लिए ही बिजी सड़कों पर पेट्रोलिंग के लिए लगाया जाता है. इस ऑफिसर ने अपनी सूझबूझ और प्रेजेंस ऑफ माइंड का इस्तेमाल किया था और इस अपराधी को दबोच लिया.

गौरतलब है कि स्पाई कैमरा में पिछले कुछ सालों में बढ़ोतरी देखने को मिली है. कुछ समय पहले सिंगापुर में पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया था क्योंकि इस शख्स ने अपने वॉशरुम में स्पाई कैमरा लगाया था और इसके चलते वो अपनी महिला दोस्तों के प्राइवेट मोमेंट्स को रिकॉर्ड करता था.

हालांकि इस शख्स की एक महिला दोस्त के बॉयफ्रेंड को वॉशरुम में जाने के बाद शक हुआ था और उसने इस पेन को चेक किया था. ये पेन चल भी नहीं रहा था तो उन्होंने इसकी तसल्ली से जांच की थी और पाया था कि ये एक स्पाई पेन कैमरा है. इसके बाद इस शख्स पर 7 हजार डॉलर्स का जुर्माना लगा था और इसे 11 हफ्तों की जेल की सजा सुनाई गई थी.

error: Content is protected !!