रोज एक बार आमने-सामने आते हैं धरती और अंतरिक्ष, अजीबोगरीब घटना से नासा भी हैरान

वॉशिंगटन: पृथ्वी के वायुमंडल (Earth’s Atmosphere) में एक ऐसी घटना देखी गई है जिसे देखकर अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) के वैज्ञानिक भी हैरान हैं. वैज्ञानिकों को उत्तरी ध्रुव से करीब 250 मील (402 किमी) की ऊंचाई पर एक ‘फनल के आकार का गैप’ मिला है.

चुंबकीय क्षेत्र में खुलता है ‘गैप’

ये पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्र में खुलता है और दिन में सिर्फ एक बार ही दिखाई देता है. इसे सिर्फ स्थानीय समयानुसार दोपहर में ही देखा जा सकता है, जब सूरज अपने उच्चतम बिंदु पर होता है. हालांकि वैज्ञानिकों का कहना है कि वायुमंडल का यह ‘गैप’ वैसे तो चिंता की बात नहीं है, लेकिन इसका असर सैटेलाइट और जीपीएस सिग्नल पर पड़ सकता है. इस क्षेत्र से गुजरने वाले विमानों ने भी धीमी गति की जानकारी दी है.

सैटेलाइट और स्पेसक्राफ्ट के लिए परेशानी पैदा कर सकता है

द मिरर रिपोर्ट के मुताबिक, नया गैप सैटेलाइट और स्पेसक्राफ्ट के लिए परेशानी पैदा कर सकता है. इसे देखने वाले नासा के वैज्ञानिकों ने भी देखा है कि इस क्षेत्र में रेडियो और जीपीएस सिग्नल में बाधा पैदा हो रही है. इस गैप के खुलने पर इस क्षेत्र के गुजरने वाला कोई भी विमान धीमा हो जाता है.

वजह ढूंढने में लगी है अमेरिकी स्पेस एजेंसी 

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा इसके पीछे की वजह ढूंढने में लगी है. यूनिवर्सिटी ऑफ अलास्का फेयरबैंक्स के प्रमुख जांचकर्ता और भौतिकविद मार्क कोंडर ने कहा है कि धरती से 250 मील की ऊंचाई पर उड़ते वक्त स्पेसक्राफ्ट जब इस क्षेत्र से गुजरते हैं तो वह अधिक खिंचाव महसूस करते हैं जैसे वह किसी स्पीड ब्रेकर से टकरा गए हों.

Please Share this news:
error: Content is protected !!