जोगिंद्रनगर के अंतर्गत शानन स्थित पंजाब विद्युत बोर्ड की 110 मैगावाट शानन पनविद्युत परियोजना में शनिवार को पैनस्टाक की पाइप फटने से परियोजना स्थल में जल भराव होने से विद्युत उत्पादन पूरी तरह ठप्प रहा। परियोजना स्थल पर पानी भरने के कारण शनिवार को परियोजना का कार्य शुरू नहीं हो सका। जोगिंद्रनगर स्थित शानन परियोजना में गर्मियों के मौसम में बिजली का पीक जनरेशन होता है लेकिन गर्मियों के शुरू होते ही परियोजना में इस तरह पैनस्टाक की पाइप फटने से दिनभर परियोजना के बंद होने को अधिकारियों की कथित लापरवाही के तौर पर भी देखा जा रहा है।

गौरतलब है कि सर्दियों के मौसम में जब पानी की कमी होती है तथा 110 मैगावाट में महज 15 से 20 मैगावाट का जनरेशन हो पाता है, तब इस समय का उपयोग विभाग द्वारा अगले सीजन की तैयारियों को लेकर किया जाता है लेकिन शायद शानन विद्युत परियोजना में हुई कथित चूक के चलते पीक सीजन के शुरू होते ही परियोजना जवाब दे गई। हालांकि परियोजना के अधिकारी इसे सामान्य बात बता रहे हैं लेकिन अधिकारियों की इस चूक के कारण बोर्ड को लाखों का नुक्सान सहन करना पड़ा है। परियोजना के रैजीडैंट इंजीनियर (आरई) ने कहा कि पैनस्टाक की पाइप फटने से परियोजना में जल भराव होने से उत्पादन बंद हुआ है, जिसे रविवार तक ठीक कर लिया जाएगा।

error: Content is protected !!