मथुरा के वृंदावन कुंभ क्षेत्र में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच शनिवार को नोकझोंक हो गई। यहां संघ के एक पदाधिकारी पर पुलिस के साथ मारपीट करने का आरोप हैं वहीं चुंगी चौराहा पर युवकों ने पुलिसकर्मियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। घटना के बाद आरएसएस, भाजपा और हिन्दूवादी संगठन के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का कोतवाली में जमावड़ा लग गया। कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की। 

जानकारी के मुताबिक शनिवार को आरएसएस के जिला प्रचारक मनोज कुमार कुंभ क्षेत्र में देवरहा घाट पर यमुना में स्नान के लिए जा रहे थे। बताया जा रहा है कि वह रैलिंग को पार कर यमुना स्नान के लिए जा रहे थे। वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने रैलिंग पार कर यमुना में जाने से मना किया। इसी बात को लेकर पुलिसकर्मी और संघ पदाधिकारी के बीच नोकझोंक हो गई। आरोप है कि यहां तैनात पुलिसकर्मियों ने संघ पदाधिकारी के साथ मारपीट कर दी। इसकी भनक लगते ही कुछ ही समय में संघ एवं भाजपा कार्यकर्ता कुंभ क्षेत्र में बड़ी संख्या पहुंच गए।

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही सीओ सदर और मेला प्रभारी भी मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद दोनों ही पक्ष कोतवाली पहुंच गए। यहां भाजपा जिलाध्यक्ष मंधु शर्मा, नगर अध्यक्ष, संघ के स्वयंसेवक, विहिप कार्यकर्ता सहित हिन्दूवादी संगठनों के दर्जनों लोग कोतवाली में जमा हो गए। उन्होंने पुलिस प्रशासन के विरोध में प्रदर्शन कर रोष व्यक्त किया और आरोपी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की मांग की है। इस गहमागहमी के बीच चुंगी चौराहा पर तैनात दो पुलिसकर्मियों को हिन्दूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। चुंगी चौराहा पर जमकर हंगामा हुआ। वहीं वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि थाने में पूर्व जिला पंचायत सदस्य महिला ने तो वृंदावन थाना अध्यक्ष के ऊपर चप्पल तक मारने की कोशिश की।

पुलिसकर्मियों से हुई मारपीट के बारे में जिलाध्यक्ष मधु शर्मा से संघ के पदाधिकारी मनोज के साथ मिलकर शिकायत की। उन्होंने उन पुलिसकर्मियों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की। वहीं उन्होंने पुलिस से मारपीट करने के मामले में कहा कि पुलिस से मारपीट करने वाले संगठन के कार्यकर्ता नहीं है। वह कोई और लोग हो सकते हैं। विहिप पदाधिकार बच्चू सिंह का कहना है कि कुंभ क्षेत्र में आरएसएस के पदाधिकारी के साथ मारपीट और अभद्रता करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

इस संबंध में कुंभ मेला प्रभारी एसपी रोहित मिश्रा ने बताया कि देवरा बाबा घाट पर स्नान करने के दौरान पुलिसकर्मियों से एक विवाद हो गया था जिसमें जो भी पुलिसकर्मी दोषी पाए गए उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। जो वीडियो वायरल हो रहा है उसमें भी जांच चल रही है, और जो भी वैधानिक कार्यवाई होगी वह की जाएगी। वही खबर लिखे जाने तक मामले में पुलिस ने एक दरोगा व एक कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कर दिया है। दोनों पक्षों में समझौता कराए जाने के प्रयास भी मौके पर हो रहे हैं।

error: Content is protected !!