गरली बालिका आश्रम से 13 साल की लड़की 9 फुट ली दीवार फांद कर भागी, कार्यकर्ताओं पर उठे सवाल

Himachal News : हिमाचल में बाल आश्रम से एक लड़की के भागने का मामले सामने आया है। 13 साल की यह लड़की 9 फीट ऊंचा गेट फांद कर भाग गई है। मामला हिमाचल के कांगड़ा जिला के गरली बालिका आश्रम (Garli Balika Ashram) का है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन हरकत में आया। सूचना मिलते ही एसडीएम देहरा (SDM Dehra) धनवीर ठाकुर भी खुद मौके पर पहुंचे।

इस दौरान पुलिस ने लड़की को दो किलोमीटर दूर ब्यौला मूहीं में ढूंढ निकाला। एसडीएम धनबीर सिंह ठाकुर व डीएसपी जवाली (DSP Jawali) तिलक राज ने गरली बालिका आश्रम पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और मामले की छानबीन की।

मिली जानकारी के अनुसार बीती रात करीब साढ़े आठ बजे के करीब जिला कागंड़ा (Kangra) के धरोहर गांव गरली स्थित बालिका आश्रम में रह रही लड़की अचानक कहीं चली गई। सूचना मिलते ही रात को डीएसपी ज्वालामुखी तिलक राज के नेतृत्व में मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी रक्कड़ चिरंजी लाल शर्मा व अन्य पुलिस दलबल ने चारों ओर घेराबंदी करके करीब एक घंटे बाद ही उसे दो किलोमीटर दूर गांव ब्यौला (मूही) से ढूंढ निकाला और उसे पूछताछ के बाद मेडिकल (Medical)के लिए रात को ही सिविल अस्पताल देहरा पहुंचाया।

वहीं इस घटना का पता ज्यों ही एसडीएम देहरा धनबीर सिह ठाकुर को चला तो वह खुद गाड़ी लेकर बालिका आश्रम गरली पहुंचे और हर पहलु की जांच की। बताया जा रहा है कि इस तरह की घटना पहले भी आश्रम में हो चुकी है। उस दौरान यहां कार्यरत महिला कर्मचारियों (Female Employees) पर भी सवाल उठे थे। करीब चार साल पहले एक लड़की रात को दीवार फांदकर भाग गई थी। जिसे पुलिस ने दूसरे दिन ऊना से बरामद किया था। अब घटी घटना की प्रशासन जांच कर रहा है। बालिका क्यों भागी थी इसका अभी तक पता नहीं चल सका है।

Share on Your Social Media Wall:

Get delivered directly to your inbox.

Join 61,615 other subscribers

error: Content is protected !!