हिमाचल में हजारों अनुबंध-अंशकालिक कर्मचारी समेत दिहाड़ीदार होंगे नियमित -कैबिनेट

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में गुरुवार को आयोजित हिमाचल कैबिनेट की बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए हैं। कैबिनेट ने  31 मार्च या 30 सितंबर को तीन साल का सेवाकाल पूरा करने वाले अनुबंध कर्मचारियों को नियमित करने का निर्णय लिया है।

इसके साथ ही  आठ साल की सेवाएं 31 मार्च और 30 सितंबर को पूरा करने वाले अंशकालिक कर्मचारियों को दिहाड़ीदार बनाया जाएगा। वहीं पांच साल की सेवाएं 31 मार्च या 30 सितंबर को पूरा करने पर दिहाड़ीदार और कंटिंजेंट कामगारों को विभिन्न विभागों में उपलब्ध सीटों पर नियमित किया जाएगा।

वहीं, सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कर्फ्यू या धारा 144 लागू करने का निर्णय संबंधित डीसी पर छोड़ दिया है।  जिला मजिस्ट्रेट अपने-अपने जिलों में निर्णय ले सकेंगे, लेकिन इसके लिए उन्हें प्रदेश सरकार से अनुमति लेनी होगी। 

कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि प्रदेश में एक मई से 18 से 44 साल के लोगों को कोरोना वैक्सीन निशुल्क लगेगी। यह जनता के लिए बहुत बड़ी राहत होगी। कैबिनेट बैठक के दौरान मुख्यमंत्री व सभी मंत्रियों ने कोविड फंड के लिए एक माह के वेतन का चेक सीएम जयराम ठाकुर को सौंपा। 

हेलीकॉप्टर विवाद पर ये कहा
रूस से लाए जा रहे नए हेलीकॉप्टर विवाद पर सुरेश भारद्वाज ने कहा कि यह फैसला जनहित में है। एमआई-172 हेलीकॉप्टर का जो लीज रेट वर्ष 2013 में था, उसी रेट पर लिया जा रहा है। कहा कि हेलीकॉप्टर को लेकर 17 सितंबर 2019 को समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हुए थे।  मंत्रिमंडल की बैठक में भी नए हेलीकॉप्टर मामले पर चर्चा हुई। 

error: Content is protected !!