साइबेरिया में 24 हजार साल बाद नींद से जागा यह सूक्ष्म जीव,

रूस के बर्फ से ढंके विशाल इलाके साइबेरिया में एक बेहद ही खास जीव मिला है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, Bdelloid नाम का यह अतिसूक्ष्म जीव 2-4 दिन नहीं बल्कि पूरे 24 हजार साल तक ‘सोने’ के बाद अब नींद से जाग गया है। इस जीव के बारे में वैज्ञानिकों का कहना है कि आमतौर पर Bdelloid पानी वाले वातावरण में जिंदा रहता है और इसमें खुद को जीवित बचाए रखने की कमाल की क्षमता होती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस अतिसूक्ष्म जीव को रूस के वैज्ञानिकों ने आर्कटिक से सटे साइबेरिया के बर्फीले इलाके में जमी हुई मिट्टी से ढूंढ़ निकाला है।

बर्फीले इलाके की मिट्टी से निकला यह जीव

रूस के वैज्ञानिकों ने ड्रिलिंग रिग खुदाई करने वाले रिग) का इस्तेमाल करके साइबेरिया के इस बेहद बर्फीले इलाके की मिट्टी को निकाला था।

मिट्टियों पर शोध करने वाले रूस के रिसर्चर स्टास मलाविन ने कहा, ‘हमारी रिपोर्ट इस बात का पुख्ता सबूत है कि कई कोशिकाओं वाले जीव गुप्तनजीविता Cryptobiosis) की अवस्था में हजारों-लाखों साल तक जिंदा रह सकते हैं।’ इससे पहले आए रिसर्च में बताया गया था कि ये सूक्ष्मकजीव जमी हुई अवस्था में 10 साल तक जिंदा रह सकते हैं। स्टास मलाविन रूस के पुश्चिनो साइंटिफिक सेंटर फॉर बायलोजिकल रिसर्च की सॉइल क्रायोलॉजी लैबोरेटरी में रिसर्चर हैं।

24 हजार साल से जिंदा है यह सूक्ष्मजीव
रूस के रिसर्चर्स ने अपनी नई रिसर्च में रेडियोकार्बन डेटिंग की मदद से इस बात का पता लगाया है कि यह सूक्ष्मजीव 24 हजार साल से जिंदा है। साइबेरिया के जिस इलाके में इस सूक्ष्मजीव को खोजा गया है, वह पूरे साल बर्फ से ढंका रहता है। वैज्ञानिकों की यह रिसर्च जर्नल करंट बायोलॉजी में सोमवार को प्रकाशित हुई है। बता दें कि इससे पहले भी साइबेरिया में प्रचीन जीवन की खोज हो चुकी है। अब साइबेरिया की बर्फ धीरे-धीरे पिघल रही है और प्राचीन जीवों के अवशेष मिलते जा रहे हैं। इस पूरे इलाके में हजारों साल से बर्फ में दबे जीवाश्म लगातार मिलते रहते हैं।


Please Share this news:
error: Content is protected !!