Ambani को पछाड़ कर TATA बने देश के सबसे अमीर कारोबारी ग्रुप

भारत में ऐसे दो उद्योगपति हैं जिन दोनों के बीच बादशाहट की होड़ मची रहती है! हम बात कर रहे हैं Ambani और TATA के बारे में! इसी सिलसिले में कई बार देखा गया है कि Mukesh Ambani की कंपनी का RIL Market Cap कभी तो टाटा ग्रुप से ज्यादा हो जाता है तो कभी TATA GROUP से पिछड़ जाता है! यही अगर बीते साल की बात करें तो जुलाई 2020 में रिलायंस ग्रुप में टाटा ग्रुप को पीछे धकेल दिया था और खुद टॉप कारोबारी घराना बन गया था! लेकिन महज 6 महीने के अंतराल में ही टाटा ने फिर से अपनी बादशाहत बना ली है!

टाटा ग्रुप जो कि देशवासियों में भरोसा कायम करने की वजह से नमक से लेकर सॉफ्टवेयर तक बनाते हैं जिसकी कंपनी टीसीएस के शानदार प्रदर्शन के बलबूते टाटा के मार्केट में उछाल आई तो एक बार फिर से टाटा देश का सबसे बड़ा बिजनेस घराना बन गया! और वही मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस ग्रुप जो की मार्केट वैल्यू के लिहाज से पहले पायदान पर था अब वह खिसक कर तीसरे पायदान पर पहुंच गया है!

वहीं टाटा ग्रुप के बाद अब दूसरे पायदान पर एचडीएफसी ग्रुप ने कब्जा जमा लिया है अगर सभी कंपनियों के मार्केट कैप की बात की जाए तो टाटा ग्रुप की जितनी भी कंपनियां हैं उनका मार्केट कैप 17 लाख करोड़ रुपए का है वही दूसरे पायदान पर एचडीएफसी ग्रुप करीब दो लाख करोड रुपए पहुंच गया है!

बता दें कि बीते 1 साल में टाटा ग्रुप के सभी कंपनियों ने एक अच्छा प्रदर्शन किया है! 1 साल के अंदर ही इस ग्रुप का मार्केट कैप 42% से अधिक हो गया है और सबसे बड़ी बात यह है कि इस ग्रुप का मार्केट कैप केवल 1 महीने के अंदर 13% तक बढ़ा है अगर वृद्धि दर को देखा जाए तो 1 महीने में टाटा ग्रुप का मार्केट कैप 1.9 लाख करोड रुपए हुआ है! वहीं दूसरी ओर मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस ग्रुप का मार्केट कैप 27% तक बढ़ा तो एचडीएफसी ग्रुप सिर्फ 11% तक ही बढ़त कर पाया है!

जुलाई 2020 के छमाही रिपोर्ट की बात की जाए तो टाटा ग्रुप की 17 लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप 11.32 लाख करोड़ था तो रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 13 लाख करोड़ के पार हो गया था! उस दौरान रिलायंस ग्रुप टाटा ग्रुप को पीछे छोड़ते हुए देश का नंबर वन ग्रुप बन गया था!

Please Share this news:
error: Content is protected !!