करसोग; महामारी व मानवता की भलाई देखते हुए सफाई कर्मचारी रहेंगे आंशिक हड़ताल पर

नगर पंचायत करसोग के सफाई कर्मचारियों ने मानवता और कोरोना महामारी को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने पिछले 9 दिनों से जारी हड़ताल को समाजसेवी, नगर पंचायत वाइस चेयरमैन बंसी लाल कोंडल, चेयरमैन ममता गुप्ता, नगर पंचायत सचिव गणेश, भीम आर्मी हिमाचल के सचिव पंकज, जिला अध्यक्ष संदीप एवम अन्य सदस्यों की उपस्थिति में अपनी हड़ताल को आंशिक हड़ताल में बदलने का फैसला किया। इस संबंध में नगर पंचायत को अपना मांग पत्र भी सौंपा गया। गोरतलब है कि सफाई कर्मचारी विमला देवी ने करसोग बीडीओ के खिलाफ जाति सूचक शब्द कहने पर एफआईआर दर्ज करवाई गई है।

सफाई कर्मचारियों ने क्रोना महामारी के चलते लोगो को कोई परेशानी ना हो जिसके चलते सफाई कर्मचारियों ने कल से सफाई व्यवस्था चलाने को कहा उन्होंने कहा कि हमारी हड़ताल जारी रहेगी हम ऐसे तीन आदमी लगातार हड़ताल में बैठे रहेंगे और मानवता के नाते सफाई व्यवस्था भी चलाते रहेंगे अगर इस बीच हमें इंसाफ नहीं मिला तो लॉकडाउन के बाद हम दोबारा सभी लोग हड़ताल में बैठ जाएंगे इसका जिम्मेवार करसोग प्रशासन और यहां के विधायक और सरकार होगी इसलिए हमारा सभी से निवेदन है कि समय रहते हम इंसाफ दिलाएं नहीं तो हमें अपनी लड़ाई और तेज करनी होगी सफाई कर्मचारियों के अध्यक्ष वसाबी सफाई कर्मचारियों ने कहा कि हम जो यह सफाई कर रहे हैं यह सब अपने उपाध्यक्ष बंसी लाल के कहने पर कर रहे हैं कि कि उन्होंने हमारा पूरा सहयोग किया है और हमारे हर सुख दुख में साथ रहे हैं हम इनका बहुत-बहुत धन्यवाद करते हैं ।

समाजसेवी बंशीलाल ने कहा कि हमारे कर्मचारियों ने जो मानवता के नाते लोगों की किसी प्रकार की परेशानी ना हो तो देखो जो निर्णय लिया है यह सराहनीय है मैं इन्हें दिल से सलाम करता हूं और मैं इनकी इस लड़ाई में हमेशा साथ रहूंगा चाहे मुझे इसके लिए कोई भी कीमत चुकानी पड़े ना मुझे कुर्सी का लालच ना ही किसी अन्य पद का मैं विमला देवी जैसी अनेक महिलाओं को इंसाफ दिलाने की लड़ाई लड़ता रहूंगा चाहे वो किसी भी वर्क की हो या कोई भी जरूरतमंद हो मैं इन सब के साथ हमेशा खड़ा रहूंगा चाहे इसके लिए मुझे कितनी भी कुर्बानी देनी पड़े नहीं मेरे साथ कार्रवाई करने कि यहां चेयरमैन पद से हटाने की क्या मुझे मारने या पास आने की जिसको जो करना है उखाड़ दे मैं हमेशा जनता की लड़ाई लड़ता रहूंगा और मुझे अफसोस है कि जो नए जनप्रतिनिधि अपने आप को बोलते हैं कि मैं भी एमएलए का दावेदार हूं जो एक महिला के मान सम्मान और हक की लड़ाई नहीं लड़ सकता उनसे क्या उम्मीद रखो आने वाले समय में करसोग की जनता की हक लड़ाई लड़ेंगे चाय हो पुराने हो या नहीं उम्मीदवार खास करके हमें अपने विधायक ने निराश किया इनसे हमें यह उम्मीद नहीं थी जिनकी खामोशी और बड़ों के साथ खड़ा होने के कारण आज विमला देवी को दबाया जा रहा है अगर वह एक्शन देते तो आज तक विमला को इंसाफ मिल गया होता

राज्य सरकार ने 6 मई से 16 मई तक कोरोना कर्फू लागू किया है। महामारी व मानवता की भलाई को देखते हुए हमारी यूनियन ने अपने काम को आंशिक रूप से जारी रखने का फैसला किया है ताकि हमारी वजह से आम नागरिकों को मुसीबतें न उठानी पड़े। हम बारी बारी काम पर जायेंगे, कुछ सदस्य हड़ताल जारी रखेंगे। कर्फ्यू के बाद फिर हमारी पूर्ण हड़ताल जारी रहेगी।

इस संघर्ष में हमारा साथ देने के लिए हम करसोग की समस्त जनता का, भीम आर्मी शिमला, जनझेली, बागा चनोगी, साहेब सोसायटी शिमला, सामाजिक आर्थिक समानता के लिए जन अभियान पंडोह, करसोग जन सेवा विकास मंच, समाज सेवी बंसी लाल कौंडल, श्याम सिंह चौहान, किशोरी लाल, भीम आर्मी के रवि कुमार दलित, पंकज का हम हार्दिक धन्यवाद करते हैं।

भीम आर्मी के प्रदेश सचिव पंकज और जिला मंडी के अध्यक्ष संदीप ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर विमला देवी को 16 मई तक न्याय नहीं मिला तो पूरे प्रदेश में भीम आर्मी सड़कों पर उतर कर इसके खिलाफ बड़ा आंदोलन करेगी।

error: Content is protected !!