सिंगापुर में चीनी महिला के साथ डेटिंग करने वाले भारतीय से नस्लीय भेदभाव, मचा बबाल

सिंगापुर में एक व्यक्ति द्वारा कथित रूप से चीन की एक महिला के साथ डेटिंग के लिए भारतीय मूल के व्यक्ति के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी किए जाने का वीडियो वायरल होने पर विवाद खड़ा हो गया, जिसके बाद गृह एवं विधि मंत्री ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए घटना को ”एकदम अस्वीकार्य” तथा ”बेहद चिंताजनक” करार दिया। करीब पांच मिनट तक चली बहस का वीडियो दवे प्रकाश (23) ने फेसबुक पर साझा किया।

‘द स्ट्रेट टाइम्स’ की खबर के अनुसार चीनी-सिंगापुरी व्यक्ति ने प्रकाश पर ”चीन की लड़की को जाल में फंसाने” का आरोप लगाया।

व्यक्ति ने कहा कि चीन की महिला को भारतीय व्यक्ति के साथ नहीं होना चाहिये। रविवार को पहली बार यह वीडियो साझा किये जाने के बाद तीन घंटे से भी कम समय में इसे तीन हजार से ज्यादा बार साझा किया जा चुका है। गृह मंत्री तथा कानून मंत्री के षणमुगम ने वीडियो के बारे में कहा कि वह घटना के सभी तथ्यों से अवगत नहीं हैं, लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि ज्यादा लोग इस तरह खुलेआम किसी के ”मुंह पर” नस्लीय टिप्पणी किए जाने को स्वीकार कर रहे हैं।

षणमुगम ने घटना को ”एकदम अस्वीकार्य” तथा ”बेहद चिंताजनक” करार देते हुए कहा कि उन्हें लगता था कि नस्लीय सहनशीलता और सौहार्द के मामले में सिंगापुर सही दिशा में जा रहा है, लेकिन हालिया घटनाओं के मद्देनजर वह इस बात को लेकर ”बहुत निश्चिंत नहीं” हैं। वीडियो में प्रकाश ने स्पष्ट किया कि वह आधे भारतीय और आधे फिलिपीनी हैं जबकि उनकी महिला मित्र आधी सिंगापुरी चीनी और आधी थाई हैं। उन्होंने कहा, ”हम दोनों मिश्रित नस्ल के हैं, लेकिन हमें सिंगापुर का होने पर गर्व है।” प्रकाश ने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि उस व्यक्ति ने उनके साथ जैसा व्यवहार किया, उससे उन्होंने ”अपमानित और आहत” महसूस किया। उसने मुझसे कहा कि तुम्हें केवल ”अपनी नस्ल के लोगों के साथ ही” डेटिंग करनी चाहिये।


error: Content is protected !!