कोरोना कर्फ्यू में डलहौजी पिकनिक बनाने पहंचे लोग, पुलिस ने काटे चालान

एक ओर जहां कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने प्रदेश में शनिवार और रविवार को संपूर्ण लॉकडाऊन लगाया है। इसके बावजूद कुछ लोगों की लापरवाही देखी जा रही है। कुछ लोग कोरोना कर्फ्यू के नियमों को दरकिनार कर घर बैठने की बजाय पिकनिक मनाने निकल रहे हैं। ऐसे लापरवाह लोगों पर डल्हौजी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए उनके चालान किए हैं, साथ ही उन्हें सख्त हिदायत दी है कि अगर दोबारा इस तरह नियमों की अवहेलना करते हुए पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक रविवार को पुलिस की अलग-अलग टीमों ने विभिन्न स्थानों का निरीक्षण किया। इस दौरान पुलिस टीमों ने पिकनिक मनाने पहुंचे ऐसे लोगों के चालान कर 17,000 रुपए जुर्माने के रूप में वसूले। ये सभी अनावश्यक तौर पर मौज-मस्ती करने के लिए लक्कड़मंडी, आहला और डैनकुंड वैली पहुंचे थे। इसके साथ ही इन लोगों को कड़ी हिदायत दी गई कि वे दोबारा अनावश्यक रूप से अपने घरों से बाहर न निकलें अन्यथा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद अनावश्यक रूप से घूमने वालों में हड़कंप मच गया है।

रविवार को हेड कांस्टेबल हेम राज की अगुवाई में एचएचसी संजीव कुमार आरक्षी मोहित रैना ने 18 चालान कर 6500 और हेड कांस्टेबल सोम नाथ और आरक्षी बंटी ने 18 लोगों के चालान कर 10,500 रूपए का जुर्माना वसूला। उधर, डीएसपी डल्हौजी विशाल वर्मा ने बताया कि हालांकि कोरोना कर्फ्यू के दौरान पुलिस लगातार लोगों को घरों में ही रहने के लिए जागरूक कर रही है लेकिन कई लोग कोविड नियमों को दरकिनार कर पर्यटन स्थलों में मौज-मस्ती करने के लिए निकल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कर्फ्यू में अनावश्यक तौर पर घूमने वाले लोगों को बख्शा नहीं जाएगा।


error: Content is protected !!