वन विभाग के नोटिस के बाबजूद कोरोना कर्फ्यू में हो रहा वन विभाग की भूमि पर अवैध निर्माण

हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू का कई जगह नाजायज फायदा उठाया जा रहा है। क्योंकि आवाजाही बंद है और सरकारी दफ्तरों में छुट्टियां है। ऐसे में कई लोगों ने मनमानियां शुरू कर दी है। ऐसा ही ताजा मामला मंडी के तरौर गांव में निकल कर सामने आया है। जहां कुछ लोगों ने अवैध निर्माण करके सरकारी जमीन पर कब्जा करना शुरू कर दिया है। जबकि ना तो सरकार की ओर से कोई अनुमति है और ना ही प्रशासन वहां कोई निर्माण करवा रहा है।

ग्राउंड वीडियो

जानकारी के मुताबिक पिछले कल वहां वन विभाग की टीम मौके पर गई थी और काम को रोका गया। ताकि सरकारी जमीन पर किसी तरह का कब्जा स्थापित ना हो पाए। वन विभाग की ओर से बाकायदा अवैध निर्माण करने वालों को नोटिस भी जारी किया गया और निर्माण कार्य को रोका गया। लेकिन वन विभाग की टीम के जाते ही फिर से वहां काम करना शुरू कर दिया गया। जिसके चलते आज फिर वहां टीम मौके पर पहुंची। जानकारी के मुताबिक अभी वहां अवैध निर्माण करने वाले गायब थे।

स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यहां एक शनि मंदिर है जिसका संचालन एक महिला ललिता गिरि नाम की महिला करती है। वही महिला वहां सरकारी भूमि पर बाहर से आए और कुछ स्थानीय लोगों की मदद से कब्जा कर रही है। स्थानीय लोगों ने जब सरकारी जमीन पर निर्माण का विरोध किया तो उक्त महिला ने शिकायतकर्ता के खिलाफ गोहर थाने में शिकायत दर्ज करवा दी। ताकि स्थानीय शिकायतकर्ता डर जाए और वह इस अवैध निर्माण का विरोध ना कर सके। जबकि उपरोक्त मामले में महिला का सहयोग स्थानीय उपप्रधान भी कर रहा है जोकि सबसे बड़ी समस्या है। जिसके चलते स्थानीय लोग विरोध करने से भी डर रहे है।

error: Content is protected !!