मनाली-लेह मार्ग फिर खुला, वाहनों की आवाजाही भी शुरू हुई; कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

मनाली-लेह मार्ग बहाल कर दिया गया है और अब हाईवे से वाहनों की आवाजाही निरंतर जारी है। लेकिन लेह जाने वाले वाहन चालकों और अन्य यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है। इस रिपोर्ट के लाने के बाद ही वाहनों को आगे बढ़ने दिया जा रहा है।

लेह प्रशासन ने सख्त हिदायत दी है कि बिना आरटीपीसीआर रिपोर्ट के लेह में एंट्री नहीं मिलेगी। लिहाजा लाहौल प्रशासन भी सिस्सू से आगे उन्हीं वाहन चालकाें को भेज रहा है, जिनके पास आरटीपीसीआर रिपोर्ट है। एसपी लाहौल स्पीति मानव वर्मा ने इसकी जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि रविवार को शुरू हुई वाहनों की आवाजाही सोमवार को भी जारी रही। रविवार को मनाली से लेह के लिए 60 वाहन गए, जिसमें 6 वाहन एलएमवी और 54 ट्रक शामिल रहे। जबकि लेह से मनाली की ओर 80 वाहन आए, जिसमें 6 एलएमवी और 74 ट्रक शामिल रहे हैं।

सिस्सू में मजदूरों का हो रहा है टेस्ट

पिछले दो दिनों से लगातार सिस्सू में लाहौल जाने वाले मजदूरों को कोविड टेस्ट किया जा रहा है। उसके बाद ही घाटी में एंट्री दी जा रही है। शनिवार को 234 और रविवार को 173 मजदूरों का कोरोना टेस्ट कराया गया और दोनों दिनों में सिर्फ एक शख्स की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।

error: Content is protected !!