10वी और 12वी की परीक्षाओं के परिणाम के लिए हिमाचल शिक्षा बोर्ड अपनाएगा सीबीएसई फार्मूला

हिमाचल प्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड भी 12वीं कक्षा की परीक्षा का परिणाम तैयार करने के लिए सीबीएसई का फार्मूला अपनाएगा। सरकार ने स्कूल शिक्षा बोर्ड और उच्च शिक्षा निदेशालय को इस बाबत तैयारी करने के निर्देश दिए हैं।

अंक निर्धारण से असंतुष्ट विद्यार्थियों को हालात सामान्य होते ही परीक्षा देने का मौका मिलेगा। 10वीं-11वीं कक्षा के 30-30 फीसदी और जमा दो के 40 फीसदी अंकों से परिणाम तैयार करने की सीबीएसई ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में जानकारी दी है। जल्द इस संदर्भ में अब अधिसूचना जारी होगी।

बता दें हिमाचल सरकार पहले ही घोषणा कर चुकी है कि सीबीएसई के फार्मूले को ही 12वीं कक्षा के परिणाम तैयार करने के लिए अपनाया जाएगा।

इसी कड़ी में सीबीएसई की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दिए जवाब के बाद प्रदेश शिक्षा विभाग ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

हिमाचल में अप्रैल में 12वीं कक्षा के एक विषय की परीक्षा हो चुकी है। इन अंकों को भी परीक्षा परिणाम में शामिल करने के लिए लिए हिमाचल सीबीएसई के फार्मूले में कुछ आंशिक संशोधन कर सकता है। आने वाले दिनों में इसको लेकर स्थिति स्पष्ट होगी। हालात सामान्य होने पर परीक्षा लेने के लिए अलग से गाइडलाइन तैयार की जाएगी।

error: Content is protected !!