झूठे मुक़दमों से दलित लोग हो रहे प्रताड़ित, सरकार दलितों का संरक्षण करने में विफल

अनुसूचित जाति के संगठनों ने आरोप लगाया है कि प्रदेश में अनुसूचित समुदाय के लोगों की आवाज़ को दबाया जा रहा है तथा पुलिस इनके विरुद्ध झूठे मामले दर्ज कर रही है।

भीम आर्मी हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष व सामाजिक कार्यकर्ता रवि दलित, समाज सुधार सभा के अध्यक्ष जिया लाल साधक, समता सैनिक दल के उपाध्यक्ष मधु सिंह, अम्बेडकर कल्याण सभा के अध्यक्ष प्रीतपाल सिंह ने रविवार को संयुक्त प्रेस वार्ता में कहा कि झूठे मामले दर्ज करने से अनुसूचित समुदाय प्रताड़ित हो रहा है तथा शासन व प्रशासन अनुसूचित जाति के लोगों के हितों की रक्षा करने में विफल रहा है। ऐसे में आगामी दिनों में उनके संगठन ऐसे सभी थानों का घेराव करेंगे, जहां उनके समुदाय के लोगों के खिलाफ गलत मामले बनाए गए हैं।

रवि कुमार दलित ने कहा कि सोशल मीडिया पर बाबा साहब भीमराव अंबेडकर पर अभद्र टिप्पणी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए और जो लोग बाबा साहब अंबेडकर पर और उनकी जयंती को काला दिवस के रूप में मनाए हैं उनके खिलाफ तुरंत एफ आई आर दर्ज की जाए जिसको लेकर एसपी शिमला के संगठनों द्वारा शिकायत पत्र दिया गया है।

रवि कुमार दलित ने कहा कि हाल ही में ठियोग क्षेत्र में भी ऐसा ही एक मामला दर्ज हुआ है। कहा कि समाज में जागरूकता लाने के मकसद से अनुसूचित जाति के लोग सोशल मीडिया में कुछ पोस्ट करते हैं, तो समाज के कथित ठेकेदारों द्वारा झूठी एफआईआर दर्ज करवाई जा रही है। जिसे किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा। कहा कि उनकी मंशा किसी की भावनाओं को आहत करने की कतई नहीं है।

उन्होंने पुलिस प्रशासन को आगाह किया कि अनुसूचित जाति समुदाय पर झूठे मामलों को किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं किया जाएगा और इसके विरुद्ध समुदाय एकजुट होकर निर्णायक लड़ाई लड़ेगा।

error: Content is protected !!