ऊना के गगरेट में चल रहे अवैध योग सेंटर में युवक की मौत मामले में गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज

गगरेट कस्बे में बिना वैध पंजीकरण के चल रहे एक योग सेंटर में युवक की संदिग्ध मौत के मामले में युवक की मां की शिकायत पर गगरेट पुलिस ने गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच तेज कर दी है। इसी बीच सेंटर का संचालन करने वाले भूमिगत हो गए हैं, जबकि जिस व्यक्ति के भवन में इस सेंटर को चलाया जा रहा था वह भी अपने मोबाइल फोन को स्विच ऑफ कर भूमिगत हो गया है। जिस सेंटर में यह संदिग्ध मौत हुई उस सेंटर में जाकर जांच करने के लिए जांच अधिकारी रविवार को भवन के मालिक से संपर्क करने का प्रयास करते रहे, लेकिन उससे संपर्क नहीं हो सका। गौर हो कि इस सेंटर में युवक की संदिग्ध मौत आठ मार्च को हो गई थी और उसके परिजनों को नौ मार्च को इसका पता चला, लेकिन 27 मार्च को जाकर इस मामले में प्राथमिकी दर्ज हुई।

 अगर परिजन नौ मार्च को ही गगरेट पुलिस को सूचित करते तो इस केस की दिशा ही कुछ और होती। बहरहाल पुलिस अब भी इस मामले को सुलझाने में जुटी है, लेकिन इस केस की जांच अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट और मौत के बाद परिजनों के बयान पर टिकी है। फिलहाल पुलिस इस केस से संबंधित सारे जरूरी दस्तावेज एकत्रित करने में जुट गई है। पुलिस की जांच के दायरे में सिविल अस्पताल गगरेट का वह डाक्टर भी आ सकता है, जिसने युवक को मृत घोषित करने के बाद पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी। अगर डाक्टर उसी समय इसकी सूचना पुलिस को देता तो सारे मामले में उसी वक्त उचित कार्रवाई हो जाती। बहरहाल अभी तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई हैं। उधर, डीएसपी सृष्टि पांडेय का कहना है कि मामले की जांच जारी है।

error: Content is protected !!