डेढ़ महीने बाद खुला मंडी का जिला पुस्तकालय, कोविड के चलते की गई बैठने की खास व्यवस्था

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के कारण बंद पुस्तकालय 45 दिन बाद पाठकों के लिए खोल दिए गए हैं। सोमवार को पहले दिन जिला पुस्तकालय मंडी में पाठकों की संख्या बेहद कम रही। कोरोना महामारी को लेकर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार पुस्तकालय में पाठकों के बैठने का प्रबंध किया गया है। कोरोना महामारी के कारण जिला पुस्तकालय को डेढ़ माह पहले पाठकों के लिए बंद कर दिया गया था। लेकिन अब उच्च शिक्षा निदेशालय ने आदेश जारी कर 21 जून से 50 फीसदी सीटिंग क्षमता के साथ पुस्तकालय खोलने के निर्देश जारी करने के बाद सोमवार से पुस्तकालय को पाठकों के लिए खोल दिया गया है।

पहले दिन सोमवार को जिला पुस्तकालय में 15 पाठकों ने उपस्थिति दर्ज करवाई। पुस्तकालय में पहुंचे पाठक, सविता, नरेश व संजय ने बताया पुस्तकालय बंद रहने से उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। लेकिन अब पुस्तकालय खुलने से उन्हें अलग अलग पाठ्य सामग्री उपलब्ध हो जाएगी। जिससे वह अब अच्छी तरह से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे।

जिला पुस्तकालय प्रभारी भगत सिंह गुलेरिया ने बताया शिक्षा निदेशालय के आदेशों के बाद पुस्तकालय को खोल दिया गया है। पुस्तकालय को खोलने का समय सुबह दस बजे से सांय पांच बजे तक रहेगा। कोरोना महामारी को लेकर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार पुस्तकालय में पाठकों के बैठने का प्रबंध किया गया है। कोविड नियमों की बखूबी पालना की जा रही है।

प्रवेश परीक्षा के लिए फार्म भरने की तिथि बढ़ी

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए वरीयता एवं प्रवेश परीक्षाओं के माध्यम से स्नातकोत्तर कक्षाओं व बीएड कक्षा के लिए आनलाइन फार्म भरने की तिथि 12 जुलाई तक बढ़ा दी है। यह जानकारी आचार्य अरविंवद कालिया अधिष्ठाता अध्ययन ने दी। विश्‍वविद्यालय प्रबंधन के इस निर्णय से विद्यार्थियों को बड़ी राहत मिली है।

Get news delivered directly to your inbox.

Join 61,625 other subscribers

error: Content is protected !!