नूरपुर में नौकरी जाने से परेशान व्यक्ति में दी फंदा लगा कर जान, सुसाइड नोट बरामद


हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के नूरपुर थाना क्षेत्र के तहत जाच्छ पंचायत में मंगलवार रात को एक व्यक्ति ने अपने घर में लोहे के जंगले में रस्सी डालकर आत्महत्या कर ली। मृतक की पहचान कुलभूषण (44) पुत्र खेमराज निवासी जाच्छ के रूप में हुई हैं। थाना प्रभारी कल्याण सिंह ने बताया कि कुलभूषण ने आत्महत्या से पहले सुसाइड नोट में लिखा है कि वह आत्महत्या कर रहा है। उसके मरने के बाद परिवार के किसी भी सदस्य को परेशान न किया जाए। सुसाइड नोट में मृतक ने लिखा है कि कोविड कर्फ्यू में नौकरी न मिलने से मानसिक तौर पर परेशान था। कोरोना कर्फ्यू से पहले पंजाब में एडहॉक पर किसी स्कूल में टीचर था, लेकिन नौकरी जाने से काफी समय खाली रहने के बाद मानसिक तनाव में रहने लगा।

मृतक कुछ समय पूर्व कोविड संक्रमण से ठीक होकर घर आया था। कोविड प्रोटोकाल के अनुसार अलग ही रह रहा था। सुबह कमरे में न दिखने पर परिवार वालों ने उसे ढूंढा तो जंगले से लटके पाया। पुलिस ने सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है।

पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। मृतक अपने पीछे मां, पत्नी, तीन लड़कियां छोड़ गया है। सबसे बड़ी लड़की की आयु करीब 12 वर्ष है। पुलिस को यह सूचना मृतक के पिता खेमराज ने दी। पुलिस ने मौके पर जाकर तहकीकात के बाद मामला दर्ज किया। सब इंस्पेक्टर दुनी चंद के नेतृत्व में पुलिस टीम ने मौके का मुआयना किया।

Please Share this news:
error: Content is protected !!