Vastu Tips: घर को बिना तोड़े दूर करें वास्तु दोष, ये उपाय दिलाएंगे परेशानियों से मुक्ति

वास्तु में प्रत्येक दिशा का अपना एक अलग महत्व बताया गया है। यहां तक की वास्तु शास्त्र में प्रत्येक चीजों के निर्माण से लेकर उसके रख-रखाव के बारे में भी नियम बताए गए हैं। मान्यता है कि यदि इन नियमों को ध्यान में रखा जाए तो व्यक्ति के जीवन में खुशहाली,तरक्की व सकारात्मकता बनी रहती है।

कभी-कभी लोगों को वास्तु के बारे में जानकारी न होने के कारण घर में कई तरह से वास्तु दोष उत्पन्न हो जाता है, जिसके कारण नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होने लगता है। नकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह से जीवन में कलह-क्लेश, कार्यक्षेत्र में समस्याओं और आर्थिक स्तर पर परेशानियां आने लगती हैं। यदि आपके घर में भी किसी प्रकार का वास्तु दोष है जिसके प्रभाव के कारण आपको परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो आप इन टिप्स की मदद से बिना तोड़-फोड़ के ही वास्तु दोष दूर कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इस बारे में।

वास्तु के अनुसार, यदि आपकी रसोई और बाथरूम का दरवाजा आमने-सामने हो तो वास्तु दोष लगता है और नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होने लगता है। इससे आपके जीवन में समस्याएं आने लगती हैं। यदि आपके घर में रसोईघर और बाथरूम आमने-सामने बने हुए हैं तो बीच में एक मोटा सा पर्दा लगा देना चाहिए या इसी के साथ बाथरूम का दरवाजा आवश्यकता होने पर ही खोलना चाहिए बाकी के समय बाथरूम को दरवाजे को बंद करके रखना चाहिए। इसके अलावा आप क्रिस्टल बॉल भी टांग सकते हैं।

यदि आपके घर के मुख्य द्वार में किसी प्रकार को दोष हो तो निजी जीवन के साथ कार्यक्षेत्र में भी परेशानियां बनी रहती हैं। इसलिए यदि मुख्य द्वार में किसी प्रकार का दोष हो द्वार के दोनों ओर स्वास्तिक का चिन्ह बनाना चाहिए। स्वास्तिक के चिन्ह को बहुत ही शुभ माना जाता है। इसके साथ ही मुख्य द्वार पर गणेश जी की प्रतिमा लगानी चाहिए। इस बात का ध्यान रखें कि मुख्य द्वार पर किसी भी प्रकार से गंदगी न हो और द्वार पर कहीं दरारे आदि हो तो उसे तुरंत सही करवा देना चाहिए।

वास्तु के अनुसार, घर में रसोई को आग्नेय दिशा में बनाना चाहिए। यदि आपकी रसोई आग्नेय दिशा में नहीं बनी ही तो आप अपनी रसोई में गैस चूल्हा आग्नेय कोण में रख सकते हैं। इससे भी वास्तु दोष दूर होता है। यदि ऐसा भी संभव न हो तो आग्नये कोण में एक छोटा सा बल्ब लगाना चाहिए।

जहां तुलसी का धार्मिक महत्व माना जाता है तो वहीं वास्तु में भी तुलसी का विशेष महत्व माना गया है। वास्तु के अनुसार जहां भी तुलसी का पौधा लगा होता है वहां पर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। यदि वास्तु दोष के कारण नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह हो रहा है तो घर को उत्तर या उत्तर पूर्व में तुलसी का पौधा लगाना चाहिए और नियमित रूप से उसकी देखभाल करनी चाहिए।

HOTEL FOR LEASEHotel New Nakshatra

Hotel News Nakshatra for Lease. Awesome Property with 10 Rooms, Restaurant and Parking etc at Kullu.

error: Content is protected !!