नए कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले चार महीन से भी अधिक समय से किसान दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। पंजाब से शुरू होकर यह आंदोलन अब यूपी, हरियाणा सहित कुछ और राज्यों में भी फैल गया है। किसान लगातार एक ही मांग पर अड़े हैं कि तीनों कृषि कानूनों को निरस्त किया जाए। इन सबके बीच नाराज किसानों ने आज यानि शनिवार को पंजाब के मालोट शहर में एक भाजपा विधायक की जमकर पिटाई कर दी।

जमकर की पिटाई
अबोहर विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक अरुण नारंग शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल होने पहुंचे थे जो पंजाब सरकार के खिलाफ थी। जैसे ही वह वहां पहुंचे तो किसानों ने उन्हें घेर लिया और स्याही फेंक दी तथा लात घूसों से पिटाई करने लगे। इतना ही नहीं इन उपद्रवी किसानों ने विधायक के कपड़े तक फाड़ दिए और जैसे- तैसे सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बाहर निकाला।

पंजाब भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य वरूण पुरी ने घटना का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, ‘बीजेपी के अबोहर विधायक अरुण नारंग जी के साथ पार्टी के दो अन्य नेताओं के साथ मलोट कस्बे में मारपीट की गई। लोकतांत्रिक राज्य में जन प्रतिनिधि पर हमला दंडनीय और बेशर्म अपराध है। मैं तत्काल आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करता हूं।’

सोशल मीडिया में इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें पुलिस नारंग को बचा रही है लेकिन किसान लगातार उन्हें पीट रहे हैं। नारंग का कुर्ता- पयजामा दोनों फट गया है। इस दौरान कुछ आवाजें आ रही हैं और उपद्रवी किसान विधायक नारंग को गाली देते हुए सुने जा सकते हैं। खबर के मुताबिक विधायक को चोट लगने के अलावा एक पुलिस अधिकारी भी चोटिल हुआ है। 

error: Content is protected !!