संवेदनशील महिला प्रताड़ना केस में जांच करने महिला थाने पहुंची डेजी ठाकुर

Read Time:2 Minute, 16 Second

जिला में महिलाओं प्रताड़ना से जुड़े हुए संवेदनशील मामले की पड़ताल करने के लिए सोमवार को राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डेजी ठाकुर महिला थाना पहुंची। थाना में पहुंचकर उन्होंने महिलाओं से जुड़े हुए मामलों पर पुलिस अधिकारियों से विस्तृत बात भी की। हालांकि मामला संवेदनशील होने के चलते इसे डिसक्लोज नहीं किया गया। महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि जिला में साइबर क्राइम के मामले सामने आ रहे हैं, जोकि चिंता का विषय है। इस दौरान उनके साथ बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष वंदना नेगी भी मौजूद रहीं।

राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना कॉल में महिला उत्पीड़न के मामले पूरे देश में बढ़े हैं। इसके चलते महिला आयोग ने महिलाओं की मदद के लिए व्हाट्सऐप नंबर भी जारी किया था। अब महिला आयोग प्रदेश के जितने भी पुलिस थाने हैं, वहां का विजिट कर रहा है। इसी कड़ी में सोमवार को महिला पुलिस थाना का विजिट किया गया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक महत्वकांक्षी योजना के तहत जिला स्तर पर वन स्टॉप सेंटर खोले गए हैं, ताकि प्रताड़ित महिला को छत मिल सके। यहां पर पीड़ित महिला कुछेक दिनों तक रह सकती है। इस दौरान केंद्र सरकार पीड़ित महिला का खर्च वहन करती है। उन्होंने कहा कि यह कहना गलत है कि महिला आयोग सिर्फ महिलाओं की ही सुनता है। महिला आयोग पूरे प्रकरण की जांच करने के बाद सही निर्णय लेता है। इस दौरान डीएसपी हैडक्वार्टर रोहिन डोगरा, महिला थाना की प्रभारी सहित अन्य मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!