गैर सरकारी संगठन के अध्यक्ष प्रवीण ठाकुर ने सरकाघाट क्षेत्र के लिए सरकार के समक्ष रखी मांगें

Read Time:3 Minute, 48 Second

सरकाघाट, सुनील कुमार शर्मा। आज तक सरकारें या विभाग भले ही विकास की लंबी लंबी डींगे हाँके, लेकिन धरातल पर स्थिति उतनी भी सही नही है। जिसके चलते सामाजिक या गैर राजनीतिक संगठनों का उदय होता है और वो संगठन लगातार आम जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए आवाज बुलंद करते रहते है। इसी कड़ी में सरकाघाट स्थित विवेकानंद सामाजिक पर्यावरण व स्वास्थ्य जागरूकता समिति एनजीओ के अध्यक्ष प्रवीण ठाकुर ने सरकाघाट में शिक्षा से संबंधित समस्याओं पर आवाज बुलंद करते हुए सरकार से मांगे की है। उन्होंने कहा कि सरकाघाट महाविद्यालय में निम्न सुविधाएं होनी चाहिए :

1) लड़कियों और लड़कों के लिए मल्टीस्पोर्ट्स छात्रावास. जिनमें हॉकी, फुटबॉल, एथलेटिक्स, क्रिकेट, बास्केटबॉल, बैडमिंटन, लॉन टेनिस आदि सभी खेल शामिल होने चाहिए।
2) सरकाघाट महाविद्यालय में बीएड-एमएड, एमएसी एवं एमए, एमसीए, सभी सब्जेक्ट में शुरू होनी चाहिए।
3) सरकाघाट महाविद्यालय में स्टेडियम का निर्माण हो।
4) सरकाघाट महाविद्यालय में ऑडिटोरियम का निर्माण हो।
5) सरकाघाट महाविद्यालय में बॉयज एंड गर्ल्स होस्टल भी बनाए जाएं।

उन्होंने आगे मां करते हुए कहा कि ऐसा करने से सरकाघाट क्षेत्र के युवा खेलों व अकादमिक क्षेत्र के साथ साथ फ़ौज व पुलिस फोर्स के लिए भी फिट होंगे। आज सैंकड़ो बच्चे इस क्षेत्र के ये सभी सुविधाएं प्राप्त करने के लिए दूर दूर भटकते हैं। मेरा सरकार से विनम्र आग्रह है कि इन मागों को शीघ्र पूरा किया जाए।

कौन है प्रवीण ठाकुर
एनजीओ विवेकानंद सामाजिक पर्यावरण व स्वास्थ्य जागरूकता समिति सरकाघाट (VSEHAA) का अध्यक्ष पद पर कार्यरत हैं। उसके साथ ही प्रवीण कुमार B. Sc.,B. Ed., M. A. English तक पढ़े हुए हैं। 1991 से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और आरएसएस से जुड़े हुए हैं। इन्होंने सरकाघाट महाविद्यालय से शिमला विश्वविद्यालय तक अखिल भारतीय परिषद का काम किया है। 1998-1999 में मंडी व कुल्लू में अखिल भारतीय परिषद से पूर्णकालिक भी रहे हैं।
वर्तमान में भाजपा पार्टी में बतौर सक्रिय कार्यकर्ता भी हैं। शिक्षा क्षेत्र से भी जुड़े हुए हैं इसलिए शिक्षा का महत्व समझते हुए बच्चों के भविष्य के लिए समय समय पर आवाज़ उठाते रहते हैं इसके अलावा यह सामाजिक गतिविधियों में भी सक्रिय रहते हैं।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!