Right News

We Know, You Deserve the Truth…

शिमला के बाद मंडी में फटे कांग्रेस के पोस्टर, कांग्रेस की अंतर्कलह खुल कर आ रही सामने


RIGHT NEWS INDIA


हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में उपजा पोस्टर विवाद अभी थमने का नाम नही ले रहा। शिमला की तर्ज पर अब मंडी में भी कांग्रेस के पोस्टर फटने शुरू हो गए है। जोकि पार्टी की अंदरूनी कलह को जनता के सामने लेकर आ गया है। जानकारी के मुताबिक मंडी में अब जीएस बाली का पोस्टर फाड़ा गया है। यह पोस्टर जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय गांधी भवन पर लगाया गया था। इस पोस्टर को किसी अज्ञात व्यक्ति ने पिछली रात को फाड़ दिया है। अभी तक यह पता नही चल पाया है कि यह कारनामा किसी कांग्रेसी कार्यकर्ता का ही है या किसी अन्य पार्टी के आदमी ने इस घटना को अंजाम दिया है।

मंडी वाले पोस्टर से भी वीरभद्र सिंह थे गायब:

जानकारी के मुताबिक शिमला में भी जो पोस्टर फाडे गए थे उनमें पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का फोटो नही था। शिमला में पोस्टर फाड़ने वाले कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता थे जिनको प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने तत्काल पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से बाहर कर दिया था। मंडी में फाडे गए पोस्टर से भी पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की फ़ोटो गायब थी, जिसके चलते आशंका है कि यह कार्य भी किसी कांग्रेस के कार्यकर्ता में ही किया होगा।

मंडी वाले पोस्टर में जीएस बाली की फ़ोटो तो लगी थी लेकिन वीरभद्र सिंह समेत कई दिग्गज नेताओं की फ़ोटो गायब थी। पंडित सुखराम और कौल सिंह ठाकुर तक को पोस्टर में शामिल नही किया गया था। अब यह समझ नही आ रहा कि यह पोस्टर किस नेता के समर्थक ने फाड़ा है।

क्या है पूरा मामला

पूर्व मंत्री जीएस बाली को अभी हाल में ही कोरोना रिलिफ कमेटी का प्रदेश प्रभारी बनाया गया है। जीएस बाली के प्रभारी बनते ही पूरे हिमाचल में जगह जगह उनके समर्थकों ने बाली के पोस्टर लगा दिए। उन पोस्टरों से हिमाचल के छह बार मुख्यमंत्री रहे वीरभद्र सिंह का फोटो गायब था। वीरभद्र सिंह के समर्थकों में इस बात से रोष फैलाया और उन्होंने पोस्टर फाड़ने शुरू कर दिए।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


error: Content is protected !!