वीरभद्र सिंह परिवार के साथ जुड़ी है लोगों की भावनाएं, लोग इस परिवार के साथ मिल कर चलेंगे आगे; प्रतिभा सिंह

0

शिमला: हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस नेता मुख्यमंत्री पद की लॉबिंग में जुट गए और दिल्ली की दौड़ लगा रहे है. कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह का नाम भी मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल हैं. उनके समर्थक उन्हें मुख्यमंत्री बनाने की वकालत कर रहे है, जिस पर हिमाचल कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा है कि स्व वीरभद्र सिंह ने 60 साल तक देश-प्रदेश की सेवा की है. उनके जैसे नेता न तो कभी हुए थे और न ही भविष्य में होंगे.

उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह के काम धरातल पर नजर आते हैं. यही वजह है कि हिमाचल प्रदेश की जनता भावनात्मक तौर पर वीरभद्र सिंह के साथ जुड़ी है. प्रतिभा सिंह ने कहा कि लोग यह चाहते हैं कि वीरभद्र सिंह के जाने के बाद यह अध्याय समाप्त न हो जाए. लोग इस परिवार के साथ मिलकर आगे चलें लेकिन बात अगर मुख्यमंत्री की करें तो यह फैसला आलाकमान को लेना है. प्रतिभा सिंह ने कहा कि प्रक्रिया के तहत विधायक दल अपना नेता चुनता है और इस पर आलाकमान की मुहर के बाद ही यह फाइनल होता है. प्रतिभा सिंह मीडिया के मुख्यमंत्री पद की दौड़ और समर्थकों की इच्छा को लेकर किए गए सवाल का जवाब दे रही थीं.

भारत जोड़ो यात्रा को मिल रहा अपार समर्थन: हिमाचल कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को अपार समर्थन मिल रहा है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पूरा दिन पैदल चलकर लोगों के साथ मुलाकात करते हैं. बात चाहे छोटे बच्चों की हो, नौजवान की हो या बुजुर्गों की. हर कोई राहुल गांधी की एक झलक पाना चाहता है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी भी बच्चों-बूढ़ों को अपने पास बुला कर बात करते हैं.

प्रतिभा सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने लंबे समय तक देशभर में शासन किया लेकिन कभी गांधी परिवार की तरफ से लोगों में नफरत फैलाने का काम नहीं किया गया. मौजूदा भाजपा सरकार देश में नफरत फैलाने का काम कर रही है और राहुल गांधी किसी नफरत को खत्म करने के लिए भारत जोड़ो यात्रा में डटे हुए हैं.

राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने कांग्रेस नेता जा रहे दिल्ली: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद कांग्रेस पार्टी के सभी नेता लगातार दिल्ली दौड़ दरबार में हाजिरी लगा रहे हैं. इस पर प्रतिभा सिंह ने कहा कि भाजपा का इस मुद्दे को लेकर बयानबाजी करना दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि हाल ही में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को नए अध्यक्ष मिले हैं. ऐसे में सभी नेता उनसे मुलाकात करने जा रहे हैं. इसमें मुख्यमंत्री की दौड़ जैसा कुछ भी नहीं है. नेता विधानसभा चुनाव से फ्री होने के बाद मुलाकात के लिए शिष्टाचार भेंट के लिए दिल्ली पहुंच रहे हैं.

Previous articleडलहौजी में होटल कारोबारियों की मनमानी, पर्यटकों से कर रहे मनमानी वसूली, पर्यटन निगम ने की कार्यवाही
Next articleकुल्लू के हुरला में ढांक से गिरा 52 वर्षीय व्यक्ति, उपचार के दौरान तोड़ा दम

समाचार पर आपकी राय: