Right News

We Know, You Deserve the Truth…

थानेदार ने रेप पीड़िता पर बनाया सुलह करने का दबाब, पीड़िता ने मुख्यमंत्री को भेजी शिकायत

सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की कथित दुष्कर्म पीडि़ता ने दारोगा पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर कार्रवाई नहीं होने पर खुदकुशी कर लेने की धमकी दी है। आरोप लगाया है कि उसके साथ दुष्कर्म करने वाले पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की, उल्टा उसके पिता व भाई को झूठे मुकदमे में फंसाने की बात कहकर रुपये की मांग कर रही है। वहीं, आरोपित दारोगा ने खुद को बेकसूर बताया और कहा कि सारी कार्रवाई नियमानुसार कर रहे हैैं।

मुख्यमंत्री व अन्य अधिकारियों को भेजे पत्र में कथित दुष्कर्म पीडि़ता ने कहा है कि बीते दिनों पड़ोसी युवक ने घर में घुसकर उसके साथ दुष्कर्म किया था।

पिता ने उसको पकड़कर पुलिस को सौंपकर कोतवाली में प्रार्थना पत्र दिया था। लेकिन, पुलिस ने आरोपित पर कार्रवाई करने के बजाय पिता पर सुलह करने का दबाव बनाया। इन्कार करने पर पुलिस ने आरोपित से रुपये लेकर पिता, चाचा व भाई पर मुकदमा दर्ज कर लिया और गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

इस संबंध में चौकी इंचार्ज वीरेंद्र सिंह ने बताया कि युवती के पिता, चाचा, भाई व बाबा ने आलोक पुत्र विश्राम को पीटकर मरणासन्न कर दिया था। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आलोक के भाई राजेंद्र ने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। मामले में एक को जेल भेजा गया है। वहीं अन्य की तलाश की जा रही है। उन्होंने आरोपों को निराधार बताया है। उधर, ग्रामीण बताते हैैं कि क्रास रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए युवती के स्वजन साजिश रच रहे हैैं। एएसपी शशि शेखर सिंह का कहना है कि अभी ऐसा कोई मामला संज्ञान में नहीं है। तत्काल जांच कराई जाएगी। जांच में जो भी दोषी मिलेगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।

error: Content is protected !!