ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन 26 जनवरी को भारत के गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर आने वाले हैं। हालांकि, अब ऐसी आशंकाएं जताई जा ही हैं कि बोरिस जॉनसन का यह दौरा रद्द हो सकता है। वजह है, कोरोना वायरस का बढ़ता कहर। ब्रिटेन में कोरोना वायरस के दो नए वेरिएंट मिलने के बाद से मामलों में लगातार तेजी आ रही है और यही कारण है कि बोरिस जॉनसन को अपना भारत दौरा रद्द करना पड़ सकता है। यह कहना है ब्रिटिश मेडिकल एसोसिएशन के प्रमुख डॉक्टर चांद नागपाल का।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘डॉक्टर चांद नागपाल ने बताया कि पीएम बोरिस जॉनसन की भारत यात्रा पर ब्रिटेन सरकार क्या फैसला लेती है यह कहना अभी जल्दबादी होगी, लेकिन यह यात्रा शायद संभव न हो पाए, खासतौर पर तब जब कोरोना वायरस संक्रमण का इसी स्तर पर प्रसार जारी रहा।’ बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन मिलने के बाद भारत सहित कई देशों ने वहां से आने वाली उड़ाने रद्द कर दी हैं।

डॉक्टर नागपाल ने कहा, ‘जाहिर है हम उस मुद्दे पर कुछ फैसला नहीं सुना सकते, जो पांच हफ्ते बाद होना है। वायरस को लेकर हर दिन बदलाव होते हैं लेकिन अगर वायरस का प्रसार इसी तरह जारी रहा तो बोरिस जॉनसन की भारत यात्रा पर भी इसका असर होगा और शायद यह रद्द हो सकता है।’ उन्होंने यह भी कहा कि लंदन व अन्य हिस्सों में लागू लॉकडाउन की वजह से अगर यह वायरस काबू में आ जाएगा तो यह यात्रा हो सकती है

बता दें कि ब्रिटेन में लोगों को फाइजर की कोरोना वैक्सीन देना शुरू किया गया है लेकिन इस म्यूटेंट स्ट्रेन को लेकर डर यह है क‍ि कहीं इस पर टीका बेअसर ना हो जाए।

By

error: Content is protected !!