कुल्लू में युवक से 49,999 रुपये की ठगी, एसपी गुरदेव शर्मा ने की अनजान कॉल से सावधान रहने की अपील

Read Time:2 Minute, 56 Second

शातिरों के झांसे में आकर लोग लगातार ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे हैं। हालांकि समय रहते मामले रिपोर्ट हो जाए तो पुलिस जरूर कार्रवाई कर कई मामलों में ठगी का शिकार हुए व्यक्ति का पैसा भी बचा चुकी है। ऐसा ही मामला कुल्लू जिला में देखने को मिला। साइबर सेल कुल्लू ने तुरंत कार्रवाई करते हुए साइबर अपराधियों के अकाउंट को ब्लॉक करके शिकायतकर्ता के 25 हजार रुपए वापस उनके खाते में रिफंड करवा दिए।

जानकारी के अनुसार 12 जुलाई को साइबर सेल के पास एक शिकायत आई थी, जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया कि उनके खाते से 49 हजार 999 रुपए निकल गए हैं। शिकायतकर्ता ने तुरंत अपने साथ ठगी की शिकायत साइबर सेल को दी थी। अब साइबर सेल की टीम ने शिकायतकर्ता के 25 हजार रुपए लौटा दिए हैं, जबकि बची हुई रकम वापस करने कार्य कर रही है। जानकारी के मुताबिक साइबर सेल कुल्लू को शिकायतकर्ता ने बताया कि उन्होंने ई-सिम कार्ड लेना था। इसके लिए शिकायतकर्ता ने गूगल में सर्च किया, जिसमें साइबर अपराधियों ने अपना नंबर दिया हुआ था। उस नंबर पर फोन करने पर साइबर अपराधियों ने एनी डेस्क एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए कहा और उन्होंने बताया कि एक कोड आएगा। इसके बाद शिकायतकर्ता ने भी एनी डेस्क डाउनलोड किया और ऐप डाउनलोड होते ही उसके खाते से 49 हजार 999 रुपए निकल गए।

साइबर अपराधियों ने विक्टिम के अकाउंट से 25 हजार रुपए अपने पेटीएम अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए थे। साइबर सेल कुल्लू ने तुरंत कार्रवाई करते हुए साइबर अपराधियों के अकाउंट को ब्लॉक करके शिकायतकर्ता के 25 हजार रुपए वापस उनके खाते में रिफंड करवा दिए। कुल्लू के पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने कहा कि मेरा आम जनता से निवेदन है कि किसी भी अंजान काल पर अपनी कोई भी बैंक की जानकारी शेयर न करें। कभी भी गूगल सर्च करके किसी भी कंपनी का संपर्क न खोजें। इससे साइबर अपराधियों को मौका मिल जाता है। ठगी होने पर तुरंत साइबर सेल को सूचित करें।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!