अयोध्या में राम मंदिर बनाने के नाम पर हो रही लूट, एक गाइड गिरफ्तार

राम मंदिर को लेकर अयोध्या में तो सियासत खत्म होता नजर आ रहा है लेकिन राम मंदिर निर्माण के नाम पर पैसे की लूट नही रुक रहा है। अयोध्या आने वाली श्रद्धालुओं व पर्यटकों से राम मंदिर निर्माण में सहयोग को लेकर बड़ी मात्रा में धन उगाही किये जाने का मामला सामने आया है।

अयोध्या में आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को प्रमुख मंदिरों में दर्शन पूजन कराने को लेकर गाइड का काम करने वाले विभिन्न मंदिरों में ले जाकर राम मंदिर निर्माण में सहयोग के नाम पर पैसे की डिमांड किया जाता है। आज एक ऐसा मामला सामने आया है। जयपुर राजस्थान से चलकर वाराणसी पहुंचे राकेश केदावत अपने परिवार के साथ प्राइवेट टैक्सी के माध्यम से अयोध्या पहुंचे जहां प्रमुख मंदिरों मैं दर्शन को लेकर एक गाइड से मुलाकात की। मोहित दर्शन कराने के लिए गाइड पलकों को भ्रमित करते हुए जानकी घाट लेकर गए जहां एक मंदिर में राम जन्मभूमि निर्माण में सहयोग के लिए धनराशि देने की डिमांड किया और परिवार के तीन व्यक्तियों से ग्यारह ग्यारह सौ रुपये चढ़वाएं। लेकिन पर्यटक को राम के नाम पर अवैध वशूली की बात सामने आते ही भड़क उठा और इसकी सूचना अयोध्या कोतवाली पुलिस को दी। वहीं पुलिस ने यात्री के सूचना पर गाइड के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर गाइड को गिरफ्तारी कर ली है।

राजस्थान के जयपुर से अयोध्या पहुंचे राकेश केदावत के मुताबिक आज भगवान श्री रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या आये थे जहां प्रवेश होते ही एक गाइड ने दर्शन कराने के नाम पर जानकी घाट पर एक मंदिर में ले गया और कहा कि इसी स्थान पर सीता रशोई बनेगी और एक संत जो 25 वर्षों से राम मन्दिर निर्माण के संकल्प को लेकर बिना अन्न की बैठे हैं। उसके बाद राम मंदिर निर्माण में शिला लगाए जाने के नाम पर हजारों रुपये लिया हैं इसी तरह अयोध्या आने वाले लोगो के साथ ठगी की जा रही है।

इस मामले को लेकर सीओ अयोध्या ने कहा कि इस प्रकार से अयोध्या में ठगी किये जाने की सूचना मिली है। ऐसे लोगो की पहचान की जा रही है। लेकिन अभी तीर्थ यात्री की सूचना के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर एक गाइड की गिरफ्तारी की गई है। वहीं बताया कि इस प्रकार की घटना अन्य लोगो के साथ न हो इसको लेकर गाइडों पर भी लगाम लगाई जाएगी।

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!