Right News

We Know, You Deserve the Truth…

895 के गैस सिलेंडर पर मिल रही 19 रुपये सब्सिडी, लोगों ने कहा, यह 100 ग्राम पकौड़ों की कीमत से भी कम


RIGHT NEWS INDIA


रसोई गैस पर सब्सिडी लगातार कम होती जा रही है और अब यह घटकर मात्र 15 से 19 रुपए तक हो गई है। ऐसे में लोग सोशल मीडिया पर इसके खिलाफ जमकर तंज कस रहे हैं और अपनी भड़ास भी निकाल रहे हैं। आपको बता दें कि फिलहाल हिमाचल प्रदेश में रसोई गैस सिलिंडर पर 15 से 19 रुपए तक की सब्सिडी मिल रही है। अब इस व्यवस्था पर सोशल मीडिया पर खूब किरकिरी हो रही है। लोग ताना कसते हुए कह रहे हैं कि इतनी सब्सिडी में तो 100 ग्राम पकौडे़ भी नहीं मिलते हैं। इस पैसे से विधायक को झंडी दी जा सकती है। हिमाचल प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निदेशक से जब रसोई गैस की सब्सिडी के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने साफ कहा कि इस संबंध में आईओसी से जानकारी लेना चाहिए।

वहीं इंडियन ऑयल कारपोरेशन के हिमाचल प्रमुख का कहना है कि इस बारे में पेट्रोलियम मंत्रालय ही सही जानकारी दे सकता है।

875 रुपए का भुगतान और 19 रुपए मिली सब्सिडी

हाल ही में हिमाचल के जाने-माने लेखक और कवि गणेश ने बुधवार को सोशल मीडिया पर शेयर किया था कि उन्होंने 875 रुपए का LPG सिलेंडर के लिए पेमेंट किया था और अब उनके खाते में 19 रुपए की सब्सिडी जमा हुई है। लगातार 5 महीनों तक 19 रुपए आते रहे तो वह एक लीटर पेट्रोल खरीद पाएंगे। उन्होंने बैंक खाते में आई सब्सिडी का मैसेज भी सोशल मीडिया पर शेयर किया है। कवि गणेश की इस पोस्ट पर कई लोगों के कमेंट आ रहे हैं। एक यूजर सुकुश शर्मा ने कहा कि पता नहीं, उनके यहां क्यों 15 रुपए की सब्सिडी आती है।

लोग बोले, लॉकडाउन में ये राहत कम नहीं

वहीं एक यूजर पवन कदयान ने कहा कि लॉकडाउन में ये कम राहत नहीं है। इस पैसे से किसी विधायक को झंडी भी दी जा सकती है। धर्मपाल ठाकुर का कहना है कि 19 रुपए में तो 100 ग्राम पकौड़े भी नहीं आएंगे। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के निदेशक राम कुमार गौतम ने कहा कि इस बारे में आईओसी से ही बात की जा सकती है। वहीं, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन में हिमाचल प्रदेश का एलपीजी वितरण देख रहे विनीत सेठ ने बताया कि डीबीटी से यह सब्सिडी केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय से जारी होती है। उन्होंने माना कि मामला उनके नोटिस में है, पर इस बारे में फैसला पेट्रोलियम मंत्रालय से होता है।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


error: Content is protected !!